किशोरी से कथित गैंगरेप और धर्मांतरण मामले में तीन गिरफ्तार

बागपत

जिले में अल्पसंख्यक समुदाय के युवकों पर अनुसूचित जाति की एक लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर उससे रेप करने और उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में मुख्य आरोपी और उसके माता-पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस सूत्रों ने दर्ज रिपोर्ट के आधार पर सोमवार को बताया कि बागपत कोतवाली क्षेत्र निवासी 15 वर्षीय एक किशोरी ने आरोप लगाया है कि पहले से ही शादीशुदा शहजाद नाम के 26 वर्षीय युवक ने उसे अपने प्रेमजाल में फंसा लिया और उसके साथ कई बार रेप किया, जिससे वो गर्भवती हो गई। शहजाद के परिजन ने उसका गर्भपात कराने की कोशिश की।  गर्भपात कराने का विरोध करने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई. लड़की के परिजन का आरोप है कि दबाव बनाने पर शहजाद ने पिछली 6 जुलाई को शादी करने के बहाने उनकी बेटी को अपने घर बुलाया और बंधक बना लिया. उनका ये भी आरोप है कि 8 जुलाई को शहजाद के भाई बिलाल और फरमान ने भी उसके साथ रेप किया.  परिजनों का दावा है कि लड़की पिछली 10 जुलाई को अपने घर पहुंची. उस समय वो बहुत डरी हुई थी. तबीयत खराब होने पर दवा लाकर दी गई. गत 17 जुलाई को हालत बिगड़ने पर डॉक्टर के पास ले जाने की जिद की तो बेटी ने घटना की जानकारी दी. उसने ये भी आरोप लगाया कि शादी करने के बहाने एक साल पहले उसका धर्मांतरण भी कराया गया था. कोतवाली प्रभारी एनएस सिरोही का कहना है कि इस मामले में नामजद सात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. मुख्य आरोपी शहजाद के अलावा उसकी मां गुलफ्शां और पिता हारुन को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया है. बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है.


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget