कोरोना के बीच आईटी सेक्टर में धूम

टीसीएस, इंफोसिस और विप्रो को 17446 करोड़ का फायदा


नई दिल्‍ली

भारत की तीन दिग्गज आईटी कंपनियों ने अपनी पहली तिमाही (अप्रैल-जून) के कॉर्पोरेट नतीजे जारी कर दिए हैं। इस रिपोर्ट के मुताबिक इन कंपनियों ने कोरोना काल में भी बंपर कमाई की है। वही अच्छी बात ये है कि आने वाले दिनों में देश में आईटी सेक्टर में नौकरियों की बाढ़ आने वाली है। रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस), इंफोसिस और विप्रो को 17,446 करोड़ रुपए  का फायदा हुआ है। ऐसे में इन कंपनियों ने चालू फाइनेंशियल ईयर मार्च 2021-अप्रैल 2022 में एक लाख पांच हजार फ्रेशर्स को नौकरी देने का वादा किया है।

इंफोसिस को 10 साल में सबसे ज्यादा प्रॉफिट

आईटी की सबसे बड़ी कंपनी टीसीएस को जून तिमाही में नौ हजार करोड़ रुपये का फायदा  हुआ। विप्रो ने भी पहली तिमाही के नतीजे जारी किए। कंपनी को 3,243 करोड़ रुपए  का मुनाफा हुआ, जो पिछले साल पहली तिमाही में 2,390 करोड़ रुपए  थी। इसी तरह इंफोसिस ने भी पहली तिमाही में पिछले 10 सालों में सबसे ज्यादा प्रॉफिट कमाया, जो 5,195 करोड़ रुपए  रहा। इंफोसिस के सीईओ और एमडी  सलिल पारेख ने कहा कि ये पहली तिमाही में एक दशक में सबसे तेज ग्रोथ है।

विप्रो ने तिमाही नतीजे जारी करते हुआ कहा कि जून तिमाही में उसका रेवेन्यू भी 12 फीसदी  बढ़कर 18,252 करोड़ रुपए  रहा, जो सालभर पहले 14,913 करोड़ रुपए  था। इसके अलावा आईटी सर्विस से कुल रेवेन्यू 18,048 करोड़ रुपए  रहा। कंपनी ने अपने पोर्टफोलियो में जून तिमाही के दौरान 129 नए कस्टमर जोड़े। कंपनी ने कहा कि वो जुलाई-सितंबर के दौरान छह  हजार आईटी  प्रोफेशनल्स को जॉब देगी, जबकि 2021-22 में 30 हजार फ्रेशर्स को जॉब देने की बात कही। बता दें कि कोरोना महामारी से कॉर्पोरेट्स में वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन एजुकेशन से आईटी कंपनियों की बिजनेस ग्रोथ की रफ्तार तेज हुई है। नतीजतन, कंपनियों के हाथ बड़ी डील लगी। एक्सचेंज को दी जानकारी के मुताबिक, इंफोसिस को जून तिमाही 19,381 करोड़ रुपए  और टीसीएस को 60,381 करोड़ रुपए  की डील मिली। इसके अलावा विप्रो को भी 5,325 करोड़ रुपयेए की आठ  नई डील मिलीं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget