कोरोना ने फिर बढ़ाई सरकार की टेंशन


नई दिल्ली

 देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार चिंतित है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है, इसलिए हमें सतर्क रहने की जरूरत है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने ताजा आंकड़े पेश करते हुए कहा कि  देश के 22 जिले ऐसे हैं, जहां चार हफ्तों में कोरोना मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। मंत्रालय ने कहा कि देश में अभी भी 62 जिले ऐसे हैं, जहां रोजाना 100 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि केरल के सात, मणिपुर के पांच, मेघालय के तीन, अरुणाचल प्रदेश के तीन, महाराष्ट्र के दो, असम और त्रिपुरा के एक-एक जिले शामिल है , जहां पिछले चार हफ्तों में मामलों में वृद्धि देखी गई है। उन्होंने कहा कि इस तरह मामलों का बढ़ना  चिंता का विषय है।  स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना के साप्ताहिक मामलों में लगातार औसत गिरावट  आई है, लेकिन अगर हम मामलों में गिरावट की दर की तुलना पहले से अब करें, तो यह चिंता का विषय बना हुआ है।  

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत बायोटेक की कोवैक्सिन और जायडस कैडिला के टीके सहित हमारे कुछ अन्य टीकों के लिए क्लिनिकल परीक्षण चल रहे हैं। जैसे ही हमें इन परीक्षणों के संतोषजनक एवं मजबूत परिणाम मिलते हैं, हम विशेषज्ञों के विवेक के आधार पर बच्चों के टीकाकरण पर निर्णय लेंगे। उम्‍मीद है कि अगले महीने से बच्‍चों का टीकाकरण शुरू हो जाएगा।

वैक्सीनेशन की भी पूरी गारंटी नहीं: डॉ. पॉल

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है। कुछ क्षेत्र चिंता का विषय बने हुए हैं। वैक्सीनेशन की भी पूरी गारंटी नहीं है कि यह पूरी तरह से संक्रमण कम करेगी। ऐसी  कोई भी वैक्सीन नहीं  है जिससे कि 100 फीसदी संक्रमण कम हो ही जाएगा। इससे बस बीमारी की गंभीरता और मौत को रोका जा सकता है।  एफएमसी में 15 लाख डॉक्टरों और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं पर अध्ययन किया गया था, जिन्हें कोविशील्ड की वैक्सीन लगाई गई थी। इससे यह पता चला कि दूसरी लहर के दौरान डेल्टा वैरिएंट से संक्रमण में 93 फीसदी की कमी आई थी और मृत्यु दर में भी 98 फीसदी की कमी देखी गई। 

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget