सुगंधित सुपारी, तंबाकू, मावा पर एक साल का बैन

मुंबई

राज्य सरकार ने सुगंधित तंबाकू, सुगंधित सुपारी, मावा गुटखा, पान मसाला, के उत्पादन, भंडारण, वितरण, परिवहन और ब्रिकी पर अगले एक साल तक प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार की ओर से इस संबंध में अधिसूचना जारी की है। खाद्य व औषधि प्रशासन (एफडीए) के खाद्य सुरक्षा आयुक्त परिमल सिंह ने खाद्य सुरक्षा व मानक अधिनियम के तहत लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए यह फैसला किया है। अधिसूचना के अनुसार सरकार ने 20 जुलाई 2020 को एक साल के लिए उक्त पदार्थों पर प्रतिबंध लगाया था, लेकिन पाबंदी के बावजूद स्वादिष्ट और सुगंधित तंबाखू जनता को आसानी से उपलब्ध हो जा रहा है, इसलिए गुटखा, पान मसाला, स्वादिष्ट व सुगंधित तंबाखू, सुगंधित सुपारी जैसे मिश्रण से उत्पादित तंबाकू पर रोक लगाने का फैसला किया गया है। बता दें कि वर्ष 2012-13 से लेकर वर्ष 2020-21 तक 282 करोड़ 87 लाख रुपए का प्रतिबंधित तंबाकू उत्पाद जब्त किए गए हैं। इस कार्रवाई में 6496 एफआईआर दर्ज की गई है, जबकि 6882 प्रकरण में अदालत में मामला दाखिल किए गए। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र, बिहार, असम, गुजरात, कर्नाटक, मध्यप्रदेश व उड़ीसा और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गुटखा उत्पादन पर पाबंदी के बाद प्री- पैकेज गुटखे का उपयोग बढ़ा है। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने धुम्रपानमुक्त  तंबाकू  के अन्य प्रकार के उत्पादन, बिक्री और वितरण पर प्रतिबंध लगाने की सलाह दी है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget