12 साल बाद 19 लोगों की 'घर वापसी'

शामली

जिले के कांधला कस्बे के सूरजकुंड मंदिर में सोमवार को तीन परिवारों के 19 लोगों ने फिर से हिंदू धर्म अपना लिया। करीब 12 साल पहले बंजारा बिरादरी के इन लोगों ने मुस्लिम धर्म अपना लिया था। सोमवार को महंत यशवीर महाराज ने पूरे रीति-रिवाज से 19 लोगों को हिंदू धर्म में फिर से दीक्षित किया है। दरअसल एक हफ्ते पहले ही कांधला के ही एक मुस्लिम दंपती और उनके चार बच्चे भी स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन कर हिंदू बने थे। इमराना से बनी अनीता ने बताया कि पहले हमारी बिरादरी की परंपरा में मरने वाले को दफनाते थे। लेकिन हिंदू समाज के लोग हमारे मरने वालों को दफनाने नहीं देते थे। इसी बात से नाराज होकर हमने 12 साल पहले मुस्लिम धर्म अख्तियार कर लिया था। तीन परिवारों के 19 लोगों ने फिर से हिंदू धर्म अपना लिया है। इनमें बड़े भी हैं, छोटे भी हैं और बच्चे भी हैं। उन्होंने कहा कि हमने खुशी से और अपनी मर्जी से हिंदू धर्म में वापसी की है। इन सभी लोगों को धार्मिक रीजि-रिवाज से ‘घर वापसी’ कराने वाले महंत यशवीर महाराज ने बताया कि हिंदू धर्म में अंतिम संस्कार की अलग-अलग प्रक्रियाएं प्रचलित हैं, इनमें दफनाना भी शामिल है। अगर कोई अपने शवों को परंपरा के अनुसार दफनाता है तो हिंदू समाज को कोई आपत्ति नहीं है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget