16 जिलों की 37 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित

पटना

बिहार में पंचायत चुनाव की तिथियां सामने आ चुकी हैं और अब पंचायतीराज विभाग द्वारा चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी होने का इंतजार है। वहीं दूसरी ओर, राज्य के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पंचायत चुनाव कराना राज्य निर्वाचन आयोग के लिए चुनौती बनी हुई है। बाढ़ग्रस्त इलाकों के पंचायतों के मतदान केंद्रों का पुनर्गठन, मतदाता सूची को अद्यतन करने सहित कई प्रक्रियाएं अभी लंबित हैं। आयोग सूत्रों के अनुसार इन क्षेत्रों में पंचायत चुनाव नवंबर व दिसंबर में होने की संभावना है। सावन अभी समाप्ति की ओर है, जबकि पूरा भादो अभी बाकी है। बाढ़ग्रस्त इलाकों के पंचायतों में चुनाव को लेकर तैयारी अगहन से ही शुरू होने की संभावना है। बाढ़ में क्षतिग्रस्त हो चुके मतदान केंद्रों को अन्यत्र स्थानांतरित करने सहित अन्य कार्य किए जाएंगे। राज्य में बाढ़ से अभी 16 जिले प्रभावित हैं। इनमें मुजफ्फरपुर, दरभंगा, खगड़िया, सहरसा, पटना, वैशाली, भोजपुर, लखीसराय, भागलपुर, सारण, बक्सर, बेगूसराय, कटिहार, मुंगेर, समस्तीपुर एवं पूर्णियां शामिल हैं। इन 16 जिलों के 100 प्रखंडों के 719 पंचायत बाढ़ से प्रभावित है। इनमें 2626 गांवों में 37 लाख की आबादी बाढ़ की समस्या से घिरी हुई है। जिला प्रशासन के कर्मी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य में जुटे हैं। ऐसे में इन सभी कर्मियों के प्रशिक्षण में भी देरी होने की संभावना है। हालांकि, आयोग ने सभी जिलों में मतदानकर्मियों को प्रशिक्षण दिए जाने का निर्देश दिया है। जिलों में मतदानकर्मियों की सूची तैयार कर चरणबद्ध तरीके से प्रशिक्षण दिए जाने की कार्रवाई शुरू होगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget