अफगानिस्तान तुरंत छोड़ें भारतीय

काबुल दूतावास की अपीलः कंपनियां भी अपने कर्मचारी बुलाएं

afghanistan

नई दिल्ली

भारत सरकार ने अफगानिस्तान में रह रहे भारतीय नागरिकों के लिए सुरक्षा एडवाइजरी जारी की है। काबुल दूतावास द्वारा जारी एडवाइजरी में अफगानिस्तान में रह रहे सभी भारतीयों को कमर्शियल फ्लाइट्स की उपलब्धता को लेकर अपडेट रहने की सलाह दी गई है। लोगों से कहा गया है कि उनके क्षेत्र में हवाई सेवा बंद होने से पहले भारत लौटने की व्यवस्था कर लें। अफगानिस्तान में बढ़ रही हिंसा को लेकर भारत सरकार ने तीसरी बार सुरक्षा एडवाइजरी जारी की है। इससे पहले 29 जून और 24 जुलाई को भी भारत सरकार ने सुरक्षा एडवाइजरी जारी की थी। काबुल दूतावास ने मामले को लेकर ट्वीट कर जानकारी दी है।

सुरक्षा एडवाइजरी में क्या?

अफगानिस्तान में काम कर रही भारतीय कंपनियों को हवाई यात्रा सेवाओं के बंद होने से पहले अफगानिस्तान में प्रोजेक्ट साइट्स से भारतीय कर्मचारियों को तुरंत वापस लेने की सलाह दी गई है। विदेशी कंपनियों के साथ काम कर रहे कर्मचारियों को सलाह दी गई है कि वह अपने नियोक्ता से कहें कि जल्द से जल्द उन्हें भारत भेजने में मदद करें। 

मीडिया से जुड़े लोगों को सलाह दी गई है कि अफगानिस्तान में काम रहे भारतीय मीडियाकर्मी ब्रीफिंग के लिए दूतावास के सार्वजनिक मामलों और सुरक्षा विंग के साथ संपर्क करें। ऐसे में मीडिया के लोग जिस क्षेत्र में यात्रा कर रहे हैं, उन्हें बेहतर सलाह दी जा सकेगी क्योंकि सुरक्षा स्थिति में तेजी से बदलाव हो रहे हैं। इस बीच तालिबान के खौफ को देखते हुए अफगानिस्तान ने इंडियन एयरफोर्स से मदद मांगी है। 

तालिबान और सेना के बीच भीषण युद्ध

तालिबान और अफगान सरकारी सैन्यबलों के बीच भीषण युद्ध चल रहा है। तालिबान ने देश के बाहरी हिस्सों पर कब्जे के बाद अब प्रातों की राजधानियों की ओर बढ़ना शुरू कर दिया है। बीते 5 दिनों में तालिबान ने पांच प्रांतीय राजधानियों पर कब्जा कर लिया है। उत्तर में कुंदूज, सर-ए-पोल और तालोकान पर तालिबान ने कब्जा कर लिया। ये शहर अपने ही नाम के प्रांतों की राजधानियां हैं। दक्षिण में ईरान की सीमा से लगे निमरोज प्रांत की राजधानी जरांज पर तालिबान ने कब्जा कर लिया है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget