अफगानिस्तान पर मोदी मिशन

चार्टर प्लेन से भारतीयों को लाने की तैयारी!


नई दिल्ली

अफगानिस्तान के हालात को लेकर पीएम आवास पर मंगलवार को सात लोक कल्‍याण मार्ग पर बड़ी बैठक हुुुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण और एनएसए अजित डोभाल मौजूद रहे। सूत्रों के अनुसार कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी की बैठक अफगानिस्तान को लेकर थी। सूत्रों के अनुसार, अफगानिस्‍तान स्थिति को लेकर पीएम लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं। वह देर रात तक स्थिति का जायजा ले रहे थे और जब फ्लाइट ने उड़ान भरी तो उन्हें अपडेट किया गया। उन्होंने निर्देश दिए कि जामनगर लौटने वाले सभी लोगों के लिए भोजन सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि आने वाले दिनों में अफगानिस्तान से भारतीय नागरिकों को सुरक्षित निकालना सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक उपाय किए जाएं। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे से पैदा हुई परिस्थितियों के बीच भारतीय राजदूत और दूतावास कर्मचारियों सहित 120 भारतीयों को लेकर वायुसेना का ग्लोबमास्टर हिंडन एयरबेस पहुंचा। अफगानिस्‍तान के राजदूत रुद्रेन्द्र टंडन ने कहा कि अब भी राजधानी काबुल में कुछ भारतीय हैं। एयर इंडिया वहां के हवाई अड्डे के चालू रहने तक व्यावसायिक सेवाएं चालू रखेगा। काबुल स्थित भारतीय दूतावास के कर्मियों के साथ भारत लौटे राजदूत ने असामान्य परिस्थितियों में भी उन्हें और अन्य को स्वदेश वापस लाने के लिए वायुसेना के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान की स्थिति पर उच्चतम स्तर से लगातार नजर रखी जा रही है और इसी के आधार पर उन्हें और अन्य भारतीयों को वहां से वापस लाने की कार्रवाई की गई, जो आगे भी जारी रहेगी।

अफगानिस्तान में आईटीबीपी के जवानों के कमांडिंग ऑफिसर रविकांत गौतम ने कहा कि अफगानिस्तान में स्थिति खराब है लेकिन हम अपने लोगों को सफलतापूर्वक निकालने में कामयाब रहे, जो हम सभी के लिए गर्व की बात है। हमारे सैनिक 3-4 दिन से नहीं सोए हैं। हम आज रात आराम से सोएंगे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget