झाइयों को भगाएं दूर


हर महिला खूबसूरत और बेदाग त्वचा चाहती है। लेकिन आजकल की लाइफस्टाइल, खान-पान में गड़बड़ी और तनाव के चलते महिलाओं को त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन चेहरे पर झाइयां एक ऐसी समस्या है जो महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशान करती है क्योंकि यह त्वचा पर काले धब्बों के रूप में दिखाई देती है जो चेहरे की खूबसूरती को कम कर देती है। मेलानिन का लेवल बढ़ने, अधिक समय तक धूप में रहने, पिंपल्स, हार्मोंनल बदलाaव, आनुवांशिक कारणों और दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण पिग्मेंटेशन की समस्या हो सकती है। 

स्किन पिग्मेंटेशन या डार्क स्पॉट्स एक ऐसी समस्या है जिससे ज्यादातर महिलाएं कभी न कभी जरूर परेशान रहती हैं। ये अनचाहे निशान सूरज के संपर्क से लेकर मुंहासे के बाद के प्रभाव तक कई कारणों से हो सकते हैं। लेकिन परेशान न हो क्योंकि हमारी किचन में कुछ ऐसे टिप्स उपलब्ध हैं जिन्हें हमारी पीढ़ियों द्वारा आजमाया और परखा गया है जो हमें सुझाव देते हैं कि कोई और कदम उठाने से पहले हम इन्हें जरूर आजमाएं।

नींबू: यह बात तो सभी जानते हैं कि नींबू का रस विटामिन सी से भरपूर होता है और निशान को ठीक करने में मदद करता है। लेकिन त्वचा पर लगाने से पहले इसे गुलाब जल या पानी से पतला करके इस्तेमाल करना चाहिए।

टमाटर: ये एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं और त्वचा को ठीक करते हैं। टमाटर में मौजूद लाइकोपीन डेड स्किन से छुटकारा पाने और त्वचा की रंगत को हल्का करने में फायदेमंद होता है। टमाटर का एक टुकड़ा त्वचा पर रगड़ने से टैनिंग और झाइयों से लड़ने में मदद मिलती है।

शहद: इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो त्वचा पर झाइयों के प्रभाव को कम करते हैं। इसे अकेले या दही और गुलाब जल के साथ मिक्स करके त्वचा पर मालिश के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। 

एलोवेरा: एलोवेरा जैल त्वचा की सभी समस्याओं से लड़ने में मदद करता है। जैल का एक टुकड़ा लें और इसे सीधे अपने चेहरे पर लगाएं। यह झाइयों के साथ-साथ त्वचा की जलन और सूजन को शांत करने में मदद करता है।

क्लिनिक में उपलब्ध उपचार

अगर आपको घरेलू उपचारों से बहुत ज्यादा फर्क महसूस नहीं हो रहा है और आप झाइयों की समस्या से तुरंत छुटकारा पाना चाहती हैं तो आप क्लिनिक में उपलब्ध ट्रीटमेंट को अपना सकती हैं। 

पील: त्वचा के प्रकार और झाइयों की गंभीरता के आधार पर विभिन्न प्रकार के पील होते हैं। इसमें लैक्टिक एसिड से लेकर डर्मेलमेलन पील तक शामिल हैं। ये त्वचा के पुनर्निर्माण और हेल्दी त्वचा को बढ़ावा देने के लिए काम करते हैं। स्ट्रॉग पील के लिए कुछ डाउनटाइम हो सकता है, लेकिन आपको परेशान नहीं होना चाहिए। 

फेशियल: अगर आप झाइयों से बचने के लिए ऊपर दिए गए दो में से किसी भी ट्रीटमेंट को नहीं लेना चाहती हैं तो आप मेडिकल फेशियल करवाएं। इनका परिणाम तत्काल ही दिखाई देता है जिससे आपकी त्वचा तुरंत कायाकल्प महसूस करती है। इसका कोई डाउनटाइम और साइड इफेक्ट नही है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget