जनता ने बनाया बदलाव का मन: फड़नवीस

बीएमसी से बेदखल होगी शिवसेना


मुंबई

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस का कहना है कि मुंबई मनपा की सत्ता पर तकरीबन 25 साल से काबिज शिवसेना को सत्‍ता से बेदखल करने का मन जनता ने बना लिया है। 'हमारा महानगर' की 16वीं वर्षगांठ पर मुख्य अतिथि के रूप में अखबार के कार्यालय पवई, हीरानंदानी गार्डन्स के ओमेगा हाउस पहुंचे राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने पूरी बेबाकी के साथ अलग-अलग मुद्दों पर अपनी राय व्‍यक्त की। 'हमारा महानगर' कार्यालय में पिछले एक सप्ताह से राजनीतिक, सामाजिक, शैक्षणिक, औद्योगिक सहित अन्य क्षेत्रों की हस्तियों के आगमन का सिलसिला जारी है। शुक्रवार शाम पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने अपनी उपस्थिति से कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए।

इस अवसर पर विशेष बातचीत में फड़नवीस ने नेताओं की बयानबाजी से संबंधित सवाल के जवाब में चुटकी लेते हुए कहा कि इस तरह की बयानबाजी बंद होनी चाहिए, लेकिन उन्‍होंने यह भी सवाल उठाया कि यदि नेता इस तरह की बयानबाजी बंद कर देंगे तो खबरें कहां से बनेंगी? बता दें कि अभी हाल ही में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ टिप्पणी की थी, जिसकी राज्यभर में कड़ी प्रतिक्रिया देखने को मिली थी। 

अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे पर उन्‍होंने कहा कि यह आस्था का मुद्दा है। यह 480 साल का संघर्ष है। भगवान राम को अपना घर मिल रहा है।

पीढ़ियों से मुंबई में रहने वालों को परप्रांतीय कहना गलत

फड़नवीस ने कहा कि उत्तर भारतीयों की 3-3 पीढ़ियां मुंबई में रह रही हैं, ऐसे में उन्हें परप्रांतीय कहना गलत है। वे असल मायने में मुंबईकर हैं। वर्ष 2014 के बाद से ही मुंबई के उत्‍तर भारतीय मतदाताओं का झुकाव भाजपा के प्रति बढ़ा है। पार्टी को इसका फायदा वर्ष 2017 के मुंबई मनपा चुनाव और वर्ष 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में भी हुआ है। मुंबई मनपा में भाजपा नगरसेवकों की संख्या 31 से बढ़कर 83 तक जा पहुंची। भाजपा के समक्ष इससे उम्दा प्रदर्शन करने की चुनौती है।

भाषा के नाम पर भेदभाव मंजूर नहीं

फड़नवीस ने कहा कि भाजपा की सरकार के वक्त हमने न केवल मराठी भाषियों को प्रोटेक्ट किया, बल्कि गैर मराठी भाषियों से कभी दुर्व्यवहार नहीं किया। उन्‍होंने कहा कि हमें भाषा के नाम पर भेदभाव मंजूर नहीं है। यह पूछे जाने पर कि यदि भाजपा मुंबई मनपा की सत्‍ता में आए तो पहला काम क्या करेंगे? पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मुंबई मनपा में मनमानी जारी है। सबसे पहले तो बीएमसी में जो भ्रष्‍टाचार जारी है, जो लीकेज है उसे बंद करेंगे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget