ओ​लिंपिक में क्रिकेट शामिल किए जाने का जय शाह ने किया समर्थन


नई दिल्ली

तोक्यो में हुए ओ​लिंपिक खेल अब खत्म हो चुके हैं। 23 जुलाई से शुरू हुए इन खेलों में भारत ने अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए एक गोल्ड सहित सात पदक अपने नाम किए। भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एथलेटिक्स में देश को ओ​लिंपिक इतिहास का पहला गोल्ड मेडल दिलाया। भारत के इस शानदार प्रदर्शन के बाद अब उम्मीद की जा रही है कि 2028 में होने वाले लॉस एंजिलिस ओ​लिंपिक में क्रिकेट को भी शामिल किया जाएगा। इस मुद्दे पर अब बीसीसीआई का बयान आया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा है कि क्रिकेट को ओ​लिंपिक खेलों में शामिल किए जाने को वे पूरी तरह से अपना समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि एक बार क्रिकेट ओ​लिंपिक में शामिल हो गया, तो भारतीय टीम उसमें जरूर हिस्सा लेगी। ओ​लिंपिक में क्रिकेट को लेकर बीसीसीआई और आईसीसी की राय एक है। बता दें कि बीसीसीआई इससे पहले भी कह चुका है कि अगर इंडियन ओ​लिंपिक एसोसिएशन की तरफ से ज्यादा दखल नहीं दिया गया तो फिर वे 2028 के ओ​लिंपिक खेलों में इंडियन टीम को भेजेंगे। बता दें कि इस बार भारत ने एक गोल्ड, दो सिल्वर और चार ब्रांज मेडल के साथ ओ​लिंपिक के इतिहास का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। तोक्यो में हुए इन खेलों की मेडल टैली में अमेरिका 39 गोल्ड के साथ सबसे ऊपर रहा। दूसरे नंबर पर चीन रहा, जिसने 38 गोल्ड मेडल अपने नाम किए। मेजबान जापान ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मेडल टैली में सर्वश्रेष्ठ तीसरा स्थान पाया। उसने 27 गोल्ड मेडल जीतने के साथ ही कुल 58 मेडल अपने नाम किए। इससे पहले ओ​लिंपिक खेलों में जापान का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 16 गोल्ड मेडल का था, जो उसने 1964 तोक्यो खेलों और 2004 एथेंस खेलों के दौरान जीते थे।   


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget