बजरंग पुनिया सेमीफाइनल में हारे

कांस्य पदक जीतने का मौका बरकरार

bajarang puniya

तोक्यो

तोक्यो ओलिंपिक में पहलवान बजरंग पुनिया पुरुषों के 65 किग्रा फ्रीस्टाइल सेमीफाइनल में अजरबैजान के हाजी अलीयेव से 5-12 से हार गए हैं। बजरंग के पास अभी भी कांस्य पदक जीतने का मौका है। यह मैच शनिवार को होगा। इस मैच में वह सेनेगल के पहलवान दैता और कजाकस्तान के पहलवान नियाजबेकोव के बीच मुकाबले के विजेता से भिड़ेंगे। अजरबैजान के पहलवान हाजी अलीयेव के खिलाफ मैच की बात करें पहले दौर में बजरंग दो अंक से पिछड़ गए। इसके बाद उन्होंने वापासी करते हुए एक अंक बटोरा। इसी साथ स्कोर 2-1 हो गया। इसके बाद हाजी ने दो अंक हासिल करके 4-1 की बढ़त बना ली। दूसरे राउंड की बात करें तो हाजी बजरंग पर हावी रहे। उन्होंने लगातार दो-दो अंक हासिल करके बढ़त 8-1 की कर ली। फिर बजरंग को दो अंक हासिल हुआ और स्कोर 3-8 का हो गया। फिर हाजी ने एक हासिल करके बढ़त को 9-3 कर दिया। फिर बजरंग ने दो अंकों के साथ स्कोर 9-5 कर दिया। हाजी ने इसके बाद दो और अंक हासिल करके बढ़त को 11-5 का कर लिया। इसके बाद उन्हें एक और अंक मिला स्कोर 12-5 हो गया और वह मुकाबला जीत गए। इससे पहले दिन में बजरंग ने दोनों मैच काफी शानदार तरीके जीते। अपने तोक्यो अभियान की शुरुआत करते हुए बजरंग ने पहले 1/8 फाइनल में किर्गिस्तान के ई अखमदालिव को हराया। इसके बाद उन्होंने ईरान के घियासी चेका मुर्ताजा के खिलाफ विक्ट्री बाय फॉल से जीत हासिल की और सेमीफाइनल में जगह पक्का किया था। 30 वर्षीय हाजी अलीयेव 2016 के रियो ओ​लिंपिक में 57 किग्रा में कांस्य पदक विजेता और 61 किग्रा में तीन बार के विश्व चैंपियन हैं। वह 65 किग्रा वर्ग में दो बार के यूरोपीय चैंपियन भी हैं। इससे पहले बजरंग और हाजी का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मुकाबला नहीं हुआ था।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget