बुंदेलखंड के विकास का बैक बोन बनेगा एक्सप्रेस-वे

लखनऊ

महान चन्देल शासक बिधाधर चन्देल और आल्हा-ऊदल जैसे शूरवीरों की धरती बुंदेलखंड आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में विकास की नई कहानी लिख रहा है। बुंदेलखंड कई सालों से उपेक्षा का दंश झेलता रहा है, लेकिन अब बुंदलेखंड के विकास को नए पंख लग चुके हैं। बुंदेलखंड की जरूरतों को अगर किसी मुख्यमंत्री ने समझा, तो वह हैं योगी आदित्यनाथ। योगी आदित्यनाथ ने बुंदेलखंड में रोजगार और सुगम सफर का ख्वाब साकार करने के लिए बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की कल्पना की। यही एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड के विकास की नई कहानी लिखने जा रहा है। बुंदेलखंड के लिए एक्सप्रेस-वे रीढ़ की हड्डी जैसा साबित होगा, यह विकास की रीढ़ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सोच शुरू से ही प्रदेश के समग्र एवं समावेशी विकास की रही है। वह मानते हैं कि उनके लिए कुछ जिले और क्षेत्र लोग ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश के लोग वीआईपी हैं। इसीलिए उनका जितना फोकस पूर्वांचल और पश्चिम उत्तर प्रदेश पर है उतना ही बुंदेलखंड पर भी। अब पूर्वांचल के साथ बुंदेलखंड के दिन भी बहुरने लगे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुंदेलखंड को बड़ी सौगात बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के साथ पीने के पानी को लेकर बड़े प्रोजेक्ट शुरू करवाए। बुंदेलखंड को केंद्र मानकर योगी सरकार की योजनाएं पूरी हुई तो बुंदेलखंड का विकास खुद में नजीर बनेगा। 296.070 किमी. लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का इसमे अहम योगदान होगा। इसमें चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन और इटावा लाभान्वित होंगे। यह एक्सप्रेस-वे प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र को देश की राजधानी दिल्ली से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के माध्यम से जोड़ेगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और राजापुर-पहाड़ी-कर्वी मार्ग पर पहाड़ी के पास डिफेंस कॉरिडोर के निर्माण से चित्रकूट के आध्यात्मिक पर्यटन को पंख लग जाएंगे। इसके साथ बुंदेलखंड के दूसरे ऐतिहासिक, पौराणिक स्थलों तक श्रद्धालुओं व पर्यटकों की पहुंच आसान होगी। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे बुंदेलखंड में पर्यटन व आर्थिक विकास के दृष्टिकोण से अहम है। इस एक्सप्रेस-वे के बनने और आसपास शिक्षण संस्थाओं, उद्योगों के जरिए करीब 60 हजार लोगों को सीधे या अप्रत्यक्ष तौर पर रोजगार मुहैया होगा।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget