कोलेस्ट्रॉल पर रखें काबू


दिल की बीमारियों के लिए कोलेस्ट्रॉल को जिम्मेदार ठहराया जाता है, लेकिन वास्तविकता यह भी है कि कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए 100% जरूरी कंपोनेंट है। हालांकि, सभी कोलेस्ट्रॉल एक तरह के नहीं होते हैं, खाद्य पदार्थों में कुछ अच्छे, तो कुछ बुरे कोलेस्ट्रॉल पाए जाते हैं। उच्च घनत्व यानी हाई डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन या एचडीएल (HDL) कोलेस्ट्रॉल, जिसे गुड कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है, ये विटामिन D और सेल मेम्ब्रेन बनाने के लिए जरूरी है। जबकि लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन या एलडीएल (LDL) कोलेस्ट्रॉल, जिसे आमतौर पर "बैड कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है, की मात्रा अधिक होने पर ब्लॉकेज का खतरा हो सकता है। दिल को हेल्दी रखने के लिए अच्छे और बुरे कोलेस्ट्रॉल के बीच संतुलन बनाए रखना जरूरी है और इसके लिए जरूरी है कि हम अपनी डाइट का खास ध्यान रखें।

हरी सब्जियों से भरपूर हो डाइट

पौधों से निकले खाद्य पदार्थों में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है। याद रखें कि कोलेस्ट्रॉल सभी मांस युक्त खाद्य पदार्थों में पाया जाता है, जिसमें बिना चर्बी का चिकन, मछली, अंडे की जर्दी और दूसरे मांस के साथ ही फुल फैट (वसा) वाले डेयरी उत्पाद भी शामिल हैं। इसकी तुलना में, नारियल और पाम ऑयल या मार्जरीन सहित पौधों से निकले खाद्य पदार्थों में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है। आपको मीट-मांस को पूरी तरह से छोड़ना नहीं है, लेकिन सफेद मीट को खाने में शामिल करना है और रेड मीट या चर्बी वाले मीट के सेवन को सीमित करने की जरूरत है।

लहसुन से करें सुबह की शुरुआत

दिन की शुरुआत कच्चे लहसुन की एक या दो फली से करें। दिन की शुरुआत कच्चे लहसुन की एक या दो फली से करें। क्योंकि ये सल्फाइड यौगिकों से भरे होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं और साथ ही रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करने में मदद करते हैं, जिससे धमनियां साफ होती हैं।

विटामिन E

जैतून के तेल में बने पालक और उबले अंड को आजमाएं 15 मिलीग्राम विटामिन E हर दिन जरूरी है, यह एक एंटीऑक्सिडेंट है जो कोलेस्ट्रॉल की वजह से आपकी धमनियों को सख्त होने से बचाती है। 

सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त मात्रा में इसका सेवन करें।

15 ग्राम सूरजमुखी के बीज (5 मिलीग्राम) + 15 ग्राम बादाम - लगभग 8 (2।5 मिलीग्राम) + 1 1/2 कप पालक (6 मिलीग्राम) + 15 ग्राम मूंगफली (1।2 मिलीग्राम) + 1 अंडा (0।5 मिलीग्राम) हरदिन सेवन करना चाहिए।


सैचुरेटेड फैट आपका दुश्मन नहीं है 

सैचुरेटेड फैट को पूरी तरह से बंद ना करें, बल्कि इनका सेवन सीमित कर दें।

सीमित मात्रा में मक्खन और घी खाने से दिल की बीमारी का खतरा नहीं होता है।

5। बुरा होता है ट्रांस फैट

एंटीऑक्सिडेंट को बढ़ाने और कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिये एक दिन में 5 से 6 मौसमी फलों और सब्जियों को डाइट में शामिल करें।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget