पीड़ित परिवार की तस्वीर पर घिरे राहुल

NCPCR ने ट्विटर इंडिया को जारी किया नोटिस

rahul gandhi

नई दिल्ली

दिल्ली के नांगल गांव में रेप और हत्या की शिकार 9 साल की मासूम बच्ची के परिजनों की ट्विटर पर तस्वीर शेयर करने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। एक तरफ भाजपा ने राहुल गांधी पर वार करते हुए कहा है कि उन्होंने नाबालिग बच्ची के परिजनों की तस्वीर शेयर करके कानून का उल्लंघन किया है। इससे पीड़िता की पहचान उजागर हुई है, जो पॉक्सो कानून के मुताबिक गलत है। वहीं अब राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने इस मसले पर ट्विटर को नोटिस जारी किया है। आयोग ने ट्विटर को नोटिस जारी कर उस तस्वीर को डिलीट  करने को कहा है, जो राहुल गांधी ने शेयर की है। 

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि गांधी परिवार का ‘‘चयन’’ का तरीका निंदनीय है क्योंकि उन्होंने राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ जैसे कांग्रेस शासित राज्यों में दलित लड़कियों के खिलाफ अत्याचार के मामलों में कभी न तो ट्वीट किया और न ही एक शब्द बोला है। राहुल गांधी ने इससे पहले बुधवार को पीड़ित बच्ची के परिवार से मुलाकात कर पीड़िता के लिए इंसाफ की मांग की।

पात्रा ने राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ में दलित लड़कियों और महिलाओं से ऐसे कई जघन्न मामलों का हवाला देते हुए इन मामलों में कांग्रेस नेता की ‘‘चुप्पी’’ को लेकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘आप अपनी आंखें मूंद लेते हैं और तभी खोलते हैं जब आपको लगता है कि इससे आपको कुछ राजनीतिक लाभ होगा। यह भयावह है।’’ उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। भाजपा प्रवक्ता ने गांधी के एक ट्वीट का हवाला देते हुए कहा, एक दलित की बेटी निश्चित रूप से भारत की बेटी है और यह पूछा कि क्या इन कांग्रेस शासित राज्यों में दलित बेटियां भारत की बेटियां नहीं हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget