मनपा फायर ब्रिगेड टीम को राष्ट्रपति पदक

मुंबई

दक्षिण मुंबई के फोर्ट में स्थित भानुशाली बिल्डिंग जुलाई में ढह गई थी. जिसमें फंसे लोगों को अपनी जान पर खेल कर बचाने वाले मुंबई फायर ब्रिगेड के आठ अधिकारियो एवं जवानों को राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चुना गया है। स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार के फायर एडवाइजर हेड ऑफिस दिल्ली द्वारा इनके नामों की घोषणा की गई।

पुरस्कार के लिए चुने गए अधिकारियों एवं जवानों में उपायुक्त एवं डायरेक्टर (आपात कालीन व्यवस्था) प्रभात रहांगदले ने इस पर खुशी जताते हुए कहा कि यह सबकी मेहनत व लोगों को किसी भी कीमत पर बचाने की जिद का परिणाम है। यह पूरे मुंबई फायर ब्रिगेड के लिए गर्व का विषय है। 16 जुलाई 2020 को भारी बारिश के बाद भानुशाली इमारत हादसा हुआ था। इमारत का एक हिस्सा गिरने से दब कर 10 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि 27 लोगों को रेस्क्यू कर बाहर निकाला गया था। रेस्क्यू ऑपरेशन में फायर ब्रिगेड के जवानों ने काफी सूझबूझ का परिचय दिया था। जिन लोगों को राष्ट्रपति पदक के लिए चुना गया है, उसमें  मुख्य फायर ऑफिसर रहे प्रभात रहांगदले सहित वर्तमान मुंबई फायर ब्रिगेड के प्रमुख हेमंत परब, आत्माराम मिश्र (डिविजनल फायर ऑफिसर), कृष्णत यादव (असिस्टेंट डिविजनल ऑफिसर), बालासाहेब नेटके (असिस्टेंट स्टेशन ऑफिसर), पंकज पवार (फायरमैन), संदीप आसेकर (फायरमैन), राजेंद्र राजम (फायरमैन) शामिल हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget