त्योहारों के बीच तीसरी लहर रोकना चुनौती

रणनीति बनाने में जुटा मनपा प्रशासन


मुंबई 

कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में सफल रही मनपा अब तीसरी लहर से निपटने की तैयारी में जुट गई है। अगस्त से हो रहे त्योहारों की शुरुआत में तीसरी लहर घातक न बन जाए इसके लिए  मनपा अभी से रणनीति बनाने में जुट गई है। दही-हंडी और सार्वजनिक गणेशोत्सव के दौरान कोरोना संक्रमण बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। मनपा इसी के चलते त्यौहार पूर्व आम जनता को लोकल में छूट नहीं देना चाह रही है।  

मनपा के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा कि त्यौहारों के दौरान भीड़ रोकना हमारे लिए कठिन चुनौती है। इसके लिए मनपा  गाइडलाइंस तैयार कर रही है, जिसमें वार्डों को ऐसे अधिकार दिए जाएंगे कि वह नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर सके, जिससे मुंबई में संक्रमण फैलने से रोका जा सके। पिछले साल दशहरा से पहले छूट दी गई थी, जिसके बाद केस बढ़े थे। इसलिए त्योहारों के दौरान हम काफी बारीकी से नजर रखेंगे। बता दें कि विशेषज्ञों ने सितंबर के आखिरी तक तीसरी लहर आने की आशंका जताई है। 31 अगस्त को दही हंडी है और 10 सितंबर से गणेशोत्सव शुरू हो रहा है।

तीसरी लहर से निपटने की तैयारी

काकानी ने कहा कि तीसरी लहर आने की आशंका को देखते हुए  मनपा उससे निपटने की तैयारी कर रही है। जंबो कोविड सेंटर व अस्पतालों में बेड बढ़ाए जा रहे हैं। ऑक्सीजन बेड के साथ वेंटिलेटर की सुविधा बढ़ाई जा रही है। हमारी कोशिश है कि यदि तीसरी लहर आए तो भी मरीजों की संख्या कम हो। यह तभी संभव हो पाएगा जब लोग कोरोना गाइडलाइंस का पालन करेंगे।

छूट के लिए सरकार के आदेश का इंतजार

काकानी ने बताया कि मुंबई में छूट देने के लिए राज्य सरकार के पास प्रस्ताव भेजा गया है। वहां से आदेश आने का इंतजार है। ज्यों ही आदेश मिलता है लोगों को छूट दी जाएगी। उन्होंने लोकल ट्रेन में आम लोगों के सफर पर कहा कि यह काफी अहम निर्णय होगा। क्योंकि लोकल ट्रेन मुंबई से ठाणे, कल्याण, नवी मुंबई, वसई- विरार  (पालघर) तक आती- जाती है। वहां कोरोना की स्थिति क्या है उसका आकलन करने के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। राज्य के 10 जिलों में केस बढ़ रहे हैं उस पर भी हमारी नजर है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget