हम कोरोना से जंग जीतेंगे

75वीं स्‍वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं


आज स्‍वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ है। किसी राष्‍ट्र या व्‍य‌िक्‍त के जीवन मंे 75वीं वर्षगांठ का क्‍या महत्‍व है, इससे हम सभी परिचित हैं। हमारे देश में यह शुभ अवसर ऐसे समय में आया है, जब दुनिया और देश पर कोरोना की काली छाया है। परिणामस्‍वरूप जिस जोश खरोश और उत्‍साह से यह राष्‍ट्रीय महोत्‍सव मनाते हैं उस पर मर्यादा है। हमें इस अवसर को भी मनाना है, साथ ही कोरोना से भी बचना है। इसलिये हमें कोरोना उपयुक्‍त व्‍यवहार का अनुपालन करते हुए स्‍वतंत्रता दिवस मनाना है। स्‍वतंत्रता के रणबांकुरों और शहीदों को हमारी यही सच्‍ची आदरांजलि होगी। प्रधानमंत्री नरंेद्र मोदी के नेतृत्‍व में कोरोना से जंग जीतने की हर संभव कोशिश हो रही है। देश भर में तेजी से टीकाकरण हो रहा है। हम सब इस अभियान का हिस्‍सा बनें और कोरोना को हराएं। हम सब मिलकर कोरोना उपयुक्‍त व्‍यवहार का अनुपालन करेंगे तो हमारी कोरोना पर विजय नि‌िश्‍चत है।

स्‍वतंत्रता दिवस समय होता है स्‍वतंत्रता दिलाने के लिए अपना सर्वस्‍व न्‍यौछावर करने वाले स्‍वतंत्रता सेनानियों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापन करने और आभार प्रदर्शन करने के साथ ही साथ उनके सपनों के अनुरूप देश बनाने के लिये प्राण प्रण से जुड़े रहने का संकल्‍प लेने का। तो आइये, कोरोना प्रसार रोकने और इस बीमारी से बचने के सभी मापदंडों का पालन करते हुए ध्वजारोहण करें और कोरोना को हराने का संकल्प लें। साथ ही देश के उन शहीदों को नमन करें, जिन्होंने अकथनीय यातनाओं का सामना कर हमें यह अवसर दिलाया कि हम आजादी की हवा में सांस ले रहे हैं।

प्र•धानमंत्री हमेशा आपदा को अवसर में बदलने और देश को आत्‍मनिर्भर बनाने के लिये हर संभव प्रयास करने का आवाहन देशवासियों से करते रहते हैं। 

आओ मिलकर इस शुभ अवसर पर ध्वजारोहण करने के साथ स्वतंत्रता संग्राम के सेनानियों, आधुनिक भारत के निर्माण के नायकों और कोरोना योद्धाओं को सलाम कर आभार व्यक्‍त करें और संकल्प लें कि हम तन-मन-धन से अपने-आपको देश निर्माण के पावन कार्य में झोंक देंगे। हम तब तक चैन की सांस नहीं लेंगे जब तक भारत हर तरह से आत्मनिर्भर और समृद्ध देश नहीं बन जाता। यह कोई असंभव बात नहीं है। दुनिया हमारी क्षमता की कायल है। विश्व के बड़े-बड़े औद्योगिक, वाणिज्यिक, चिकित्सीय और वैज्ञानिक संस्थानों में हमारे देश के नौजवानों की क्षमता और विद्वता का डंका बजता है। उन्होंने अपने कार्यों से उन देशों को काफी आगे बढ़ाया है। यह जाहिर करता है कि हममें क्षमता की कमी नहीं है। आवश्यकता है तो संकल्प के साथ काम में जुटने की। स्वतंत्रता दिवस के इस राष्‍ट्रीय पर्व पर देश को हर तरह से आत्मनिर्भर बनाने के अभियान में लग जाएं।

स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ पर मैं मुंबई सहित महाराष्ट्र के साथ सभी देशवासियों, हिंदी भाषी समाज और ‘हमारा महानगरÓ’ के सभी पाठकों, विज्ञापनदाताओं और शुभचिंतकों को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।

जय हिंद!

- आरएन सिंह

विधायक: भाजपा

अध्यक्ष: उत्तर भारतीय संघ, मुंबई

संरक्षक : 'हमारा महानगर'


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget