सदन में तोड़फोड़ विपक्ष की चौधराहट : नकवी


प्रयागराज

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बदनाम करने की जो सनक है वह लोकतंत्र को बदनाम करने की साजिश है। पिछले दिनों सदन में प्रधानमंत्री का विरोध करते हुए विपक्ष के सदस्य जिस तरह से मार्शल से भिड़ गए, तोड़फोड़ और हिंसा की वह लोकतांत्रिक मूल्यों को नुकसान पहुंचाने वाला कदम है। इससे समूचा लोकतंत्र शर्मसार हुआ है। यह घटना बिना जमीन की जमीदारी और विपक्ष की चौधराहट है। यह केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का कहना है। केंद्रीय मंत्री शुक्रवार को प्रयागराज के बमरौली हवाई अड्डे पर पहुंचे जहां प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने उनका स्वागत किया। यहां से अल्पसंख्यक मंत्री अपने पैत्रिक गांव भदारी के लिए रवाना हो गए। वह हर साल मोहर्रम के समय अपने पैत्रिक गांव जाते हैं। इस बार भी इसी उद्देश्य से संगम नगरी आए हैं। एयपोर्ट पर पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने कहा कि सदन में हंगामा, तोड़फोड़ करने वाले लोग सड़क पर किसी क्रांतिकारी की तरह उतरे। जो गुनाहगार हैं, जिनके पास पाप की पोटली है वह सभी सड़क पर उतर कर यह प्रदर्शित कर रहे थे, जैसे बहुत बड़ा कार्य किया हो। नकवी ने कहा कि वास्तव में यह घटना बिना जमीन की जमीदारी और विपक्ष की चौधराहट है। इसकी होड़ लगी हुई है।  विपक्ष का नेतृत्व कर रहे राहुल गांधी के प्रश्न पर अल्पसंख्य मंत्री ने बीच में ही टोकते हुए कहा कि राहुल गांधी सुबह क्या सोचते हैं, शाम को भूल जाते हैं। उन्हें भूलने की बीमारी है। दिक्कत उनसे नहीं उन लोगों के आचरण से है जो वर्षों सदन में रहे और वह मर्यादा को जानते हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget