स्वदेशी वैक्सीन को मंजूरी

जायडस कैडिला समेत अब भारत के पास पांच वैक्सीन

vaccine

नई दिल्ली

कोरोना महामारी के खिलाफ देश में चल रहे वैक्सीनेशन में अब एक और वैक्सीन जुड़ गई है। फार्मा कंपनी जायडस कैडिला की तीन डोज वाली कोरोना वैक्सीन को केंद्र सरकार ने मंजूरी दे दी है। इस वैक्सीन का नाम ZyCov-D है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की एक्सपर्ट कमेटी ने शुक्रवार को इस वैक्सीन के इमरजेंसी यूज की मंजूरी दे दी है। कमेटी ने फार्मा कंपनी से इस वैक्सीन के दो डोज के प्रभाव का अतिरिक्त डेटा भी मांगा है।

जेनेरिक दवा कंपनी कैडिला हेल्थकेयर लिमिटेड ने ZyCoV-D के इमरजेंसी यूज की अनुमति के लिए बीती एक जुलाई को आवेदन किया था। ये आवेदन 28 हजार वॉलंटियर्स पर किए गए आखिरी स्टेज के ट्रायल के आधार पर किया था। वैक्सीन का एफिकेसी रेट 66.6 प्रतिशत सामने आया था। यह भी कहा गया है कि ये वैक्सीन 12 से 18 आयु वर्ग के लिए भी पूरी तरह सुरक्षित है। हालांकि अभी तक इसके ट्रायल डेटा का पीयर रिव्यू नहीं किया गया है।

अगर इमरजेंसी यूज के बाद ये वैक्सीन पूरी तरह अप्रूव हो जाती है तो ये भारत की दूसरी स्वदेशी वैक्सीन होगी। इससे पहले भारत बायोटेक और आईसीएमआर ने साथ मिलकर पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन बनाई थी। इस वक्त देश में कुल चार वैक्सीन को अनुमति मिली हुई है। कोविशील्ड, कोवैक्सीन, स्पूतनिक, मॉडर्ना। अब जायडस की वैक्सीन मिलाकर ये संख्या पांच हो जाएगी।

ICMR और बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट के सहयोग से बनी वैक्सीन

इससे पहले जायडस कैडिला ने कहा था कि वो अप्रूवल मिलने के बाद दो महीने के भीतर वैक्सीन लांच कर सकती है। ZyCov-D वैक्सीन को भारत सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च द्वारा मिलकर विकसित किया गया है। इस वैक्सीन को दो से आठ डिग्री सेल्सियस पर सामान्य फ्रीजर में रखा जा सकता है।

 

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget