गरीबों में बंटेगी अमीरों की ‘दौलत’


नई दिल्ली

चीन में अब अमीरों की दौलत को गरीबों में बांटा जाएगा। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने यह महत्वपूर्ण फैसला किया है। इससे देश के अमीर लोगों और बिजनेसमैन पर समाज को ज्यादा लौटाने का दबाव बढ़ गया है। शी ने सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के शीर्ष नेताओं से कहा कि सरकार को सामाजिक निष्पक्षता के लिए पैसे के पुनर्वितरण को एक प्रणाली बनानी चाहिए। उन्होंने इस दौरान कहा कि अत्यधिक उच्च आय को सही तरीके से विनियमित करना और अमीर लोगों और बिजनेसमैन को समाज में और अधिक लौटाने के लिए प्रोत्साहित करना आवश्यक है। हालांकि अभी तक यह नहीं पता चल सका है कि शी इन लक्ष्यों को कैसे प्राप्त करेंगे, लेकिन माना जा रहा है कि सरकार टैक्स और अन्य विकल्पों के जरिए इसे पूरा करने का प्रयास करेगी। शी ने चीन के लोगों के बीच साझा समृद्धि की आवश्यकता को पार्टी की सत्ता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने 2049 तक देश को पूरी तरह से विकसित समृद्ध और शक्तिशाली राष्ट्र में बदलने का संकल्प लिया। चीन 2049 में देश के गठन की 100वीं वर्षगांठ भी मनाएगा। शी ने पार्टी की आर्थिक बैठक के दौरान कहा कि सामान्य समृद्धि सभी लोगों की समृद्धि है। यह आर्थिक बैठक नीति निर्धारित करने के लिए हर कुछ महीनों में आयोजित की जाती है। शी का पैसों के पुनर्वितरण पर अर्थव्यवस्था के लिए उनकी सरकार के व्यापक लक्ष्यों से जुड़ा है। हाल के महीनों में देश ने वित्तीय जोखिम को कम करने, अर्थव्यवस्था की रक्षा करने और भ्रष्टाचार को खत्म करने के नाम पर तकनीक, वित्त, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में अभूतपूर्व कार्रवाई शुरू की है। हालांकि निजी उद्यमों पर कार्रवाई ने वैश्विक निवेशकों को झकझोर दिया है। साथ ही चीन की अर्थव्यवस्था में नवाचार और विकास की संभावनाओं के बारे में आशंका को जन्म दे दिया है। देश की अर्थव्यवस्था ने हाल ही में कमजोरी के संकेत दिखाए हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget