बाढ़ प्रभावितों की हर संभव मदद करेंगे : ठाकरे

बारिश से कृषि, व्यापार, उद्योग को नुकसान पहुंचा

uddhav thackeray

मुंबई

सांगली के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि आम लोगों के लिए मुंबई की लोकल ट्रेनों शुरु करने पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। पहले चरण में लोकल के बारे में निर्णय लेना कठिन है। मुख्यमंत्री पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि जिन इलाकों में कोरोना रोगियों की संख्या में कम नहीं होगी, वहां दुकानों के समय पर पाबंदी रहेगी। अन्य जगहों पर रात 8 बजे तक दुकानें खोलने का समय बढ़ाया गया है। सभी जगहों कार्यालय प्रमुखों से काम के घंटे बांटने तथा वर्क फ्रॉम होम के नियोजन के बारे में कहा गया है। उन्होंने कहा कि उद्योगों से बायो बबल तैयार करने और स्वास्थ्य नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित उत्पादन पर विचार करने को कहा गया है।

सोमवार को सांगली दौरे पर थे सीएम

भविष्य में होने वाले प्रतिकूल प्रभावों को ध्‍यान में रखते हुए विकास कार्य किए जाएंगे। पुनर्वास, अतिक्रमण जैसी विषयों पर कठोर निर्णय लेकर योजना तैयार की जाएगी। मुख्यमंत्री सोमवार को सांगली के बाढ़ प्रभावित भिलवडी, अंकलखोप, कसबे डिग्रज, मौजे डिग्रज जैसी जगहों का मुआयना किया और जिलाधिकारी कार्यालय सांगली में समीक्षा बैठक ली। ठाकरे ने कहा कि वर्ष 2019 की महा बाढ़, कोरोना और अब 2021 की बाढ़ की पृष्ठभूमि में बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद के लिए सरकार कटिबद्ध है।

बाढ़ की समस्या का निकालेंगे स्थायी समाधान

ठाकरे ने कहा कि जुलाई माह में महाराष्‍ट्र के विभिन्न जगहों पर हुई भारी बारिश और बाढ़ से कृषि, व्यापार, उद्योग और घरों को नुकसान पहुंचा है। ऐसा दोबारा होने से रोकने के लिए हमें तत्काल और दूरगामी दोनों उपायों पर काम करने की जरूरत है। बाढ़ जैसी समस्याओं के स्थाई समाधान को प्राथमिकता दी जाएगी। बाढ़ प्रबंधन के लिए बाढ़ के पानी को सूखा प्रभावित क्षेत्रों की तरफ मोड़ने, नदी जोड़ उपक्रम जैसी बातों पर विचार कर तकनीकी विशेषज्ञों की मदद से योजना तैयार की जाएगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget