‘पत्रकार, किसान, आम जनता राज्य सरकार से नाराज’


मुंबई

विधानसभा में विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने एक बार फिर महाविकास के मोर्चे पर जमकर निशाना साधते हुए सरकार के सभी तत्वों की आलोचना की। फड़नवीस ने सोमवार मुंबई के आजाद मैदान में मुंबई अभियान के माध्यम से टीवी पत्रकार संघ के टीकाकरण अभियान का उद्घाटन किया। इस मौके पर महाराष्ट्र भाजपा उपाध्यक्ष प्रसाद लाड और चित्रा वाघ मौजूद रहीं। फड़नवीस ने कहा, देश के 15 राज्यों ने पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित किया है। पत्रकार अपनी जान की परवाह किए बिना कोविड के पहले दिन से ही काम कर रहे हैं। पत्रकार सबसे जोखिम भरे व्यवसायों में से हैं, इसलिए उन्हें फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने की आवश्यकता है। मैं आज भी मुख्यमंत्री से इस संबंध में कार्रवाई करने का आग्रह करता हूं। इस सरकार में समाज के किसी वर्ग की ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया। किसानों की आत्महत्याएं बढ़ी हैं। मंत्रालय में आकर किसान आत्महत्या कर रहे हैं। तबादलों और पदोन्नति में बड़े पैमाने पर घोटाला हुआ है। आम जनता के पास कोई अभिभावक नहीं बचा है। फड़नवीस ने यह भी कहा कि तीन दलों की सरकार एक अपमानजनक गठबंधन से आई और जनादेश निरस्त कर दिया गया, उन्होंने कहा, सरकार में पार्टियों के पास कोई विचार नहीं, कोई विचारधारा नहीं है और केवल सत्ता का लालच है। उनकी कोई नैतिकता नहीं है। सरकार में लोग चिल्लाते हैं, क्योंकि उन्हें सत्ता का हिस्सा नहीं मिल रहा है, जब उन्हें हिस्सा मिलता है तो वे चुप हो जाते हैं। उनका आम लोगों से कोई लेना-देना नहीं है। सत्ता के लालच में साथ आई सत्ताधारी पार्टी इस समय लूटपाट में लगी है। फड़नवीस ने कहा कि चाहे  पत्रकार हों, किसान हों या सरकारी कर्मचारी हों सभी सरकार से नाराज हैं। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget