टीकाकरण से रुकेगी तीसरी लहर: ठाकरे

सद्भावना जीवन रथ टीकाकरण वाहनों का शुभारंभ


मुंबई

राज्‍य के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोरोना की फिलहाल कोई प्रभावी दवा नहीं होने से वैक्सीन की एक ढाल के रूप में काम कर रही है। आगामी समय में कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए अधिक से अधिक नागरिकों का टीकाकरण आवश्यक है और कोरोना को मात देने के लिए हम पूरी तरह तैयार है। मुख्यमंत्री ने यह बात नागपुर में सद्भावना जीवन रथ के 200 टीकाकरण वाहनों का ऑनलाइन उद्घाटन करते हुए कही।

मानकापुर स्थित विभागीय खेल परिसर में विदर्भ सहायता सोसाइटी और महापारेषण ने संयुक्‍त रूप से सद्भावना जीवन रथ के 200 टीकाकरण वाहन सौंपे। मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इनका शुभारंभ किया। महापारेषण कंपनी की तरफ से टीकाकरण मुहिम के प्रभावी क्रियान्वयन करने के लिए 25 करोड़ रुपए की सीएसआर निधि विदर्भ सहायता सोसाइटी को उपलब्‍ध कराई गई। इस निधि से विदर्भ के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों को 200 टीकाकरण वाहन उपलब्ध कराए गए हैं। टीकाकरण वाहनों का हस्‍तांतरण राजस्‍व मंत्री बालासाहेब थोरात के हाथों हुआ। इस दौरान मंच पर ऊर्जा मंत्री और नागपुर के पालक मंत्री डॉ. नितीन राऊत, पशुसंवर्धन मंत्री सुनील केदार, महिला व बाल विकास मंत्री यशोमति ठाकुर के अलावा वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे कौशल्य विकास मंत्री नवाब मलिक, गृह राज्यमंत्री शंभूराज  देसाई, रोजगार गारंटी और फलोत्पादन मंत्री संदीपान भुमरे सहित अन्य लोग उपस्थित थे। 

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि राज्‍य की पांच करोड़ जनता को वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज दे दिया गया है। एक दिन में नौ लाख से अधिक खुराक दी गई। केंद्र सरकार द्वारा उपलब्ध अधिकतम खुराक के अनुसार सभी का टीकाकरण किया जाएगा। ऐसे नागरिक, जो टीकाकरण केंद्रों पर नहीं पहुंच सकते, उनके लिए 200 टीकाकरण वाहन उपयोगी साबित होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करना आवश्यक है। टीकाकरण वाहन का हस्तांतरण और मुहिम का शुभारंभ करते हुए राजस्‍व मंत्री बालासाहेब थोरात ने कहा कि सद्भावना जीवन रथ टीकाकरण वाहनों के जरिए विदर्भ के अंतिम घटक तक पहुंचने में मदद मिलेगी।  स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने टीकाकरण के लिए 200 वाहन उपलब्ध कराने के लिए विदर्भ सहायता सोसाइटी और महापारेषण का अभिनंदन किया। अध्‍यक्षीय भाषण में ऊर्जा मंत्री डॉ. नितीन राऊत ने कहा कि कोरोना की पहली और दूसरी लहर का सामना करते वक्त स्वास्थ्य विभाग ने ऑक्सीजन सहित आवश्यक मेडिकल सुविधा की आपूर्ति को वरीयता दी। तीसरी लहर का सामना करने के लिए टीकाकरण अत्‍यंत आवश्‍यक होने से महापारेषण कंपनी की तरफ से 25 करोड़ रुपए की सीएसआर निधि विदर्भ सहायता समिति को उपलब्‍ध कराने से नागपुर, अमरावती विभाग की सभी तहसीलों को दो-दो वाहन के अनुसार 200 वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget