RBI ने नए डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म पर लगाई रोक


नई दिल्‍ली

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने नए पेमेंट नेटवर्क प्लान पर रोक लगा दी है। केंद्रीय बैंक ने नई कंपनियों को नए डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म्स बनाने की अनुमति देने और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में नेशनल पेमेंट्स काउंसिल ऑफ इंडिया के दबदबे को समाप्त करने वाली योजना को रोक दिया है। इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि रेग्युलेटर ने डेटा सेफ्टी चिंताओं के चलते ये फैसला लिया है। अमेजॉन, गूगल, फेसबुक और टाटा ग्रुप के नेतृत्व में कम से कम छह कंसटोर्यिम ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और आईसीआईसीआई बैंक लिमिटेड जैसी कंपनियों के साथ साझेदारी में न्यू अंब्रेला एंटिटीज लाइसेंस के लिए आवेदन किया। भारतीय रिजर्व बैंक ने पिछले साल नए पेमेंट नेटवर्क के लिए EoI आमंत्रित किए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, हालांकि, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और यूनियन बैंक जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के लेंडर्स को वित्त मंत्रालय द्वारा लाइसेंस लेने से रोक दिया गया था, क्योंकि वे एनपीसीआई में शेयरधारक थे। इस मामले से जुड़े लोगों में से एक ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि आरबीआई को लगता है कि विदेशी संस्थाओं से जुड़े डेटा सुरक्षा का मुद्दा एक प्रमुख चिंता का विषय बना हुआ है1 इसलिए, अभी के लिए नए लाइसेंस के साथ आगे नहीं बढ़ने का फैसला किया है। RBI के इस कदम को शुरू से ही बैंक यूनियनों की आलोचना का सामना करना पड़ा था और न ही सार्वजनिक क्षेत्र के लेंडर्स खुद को बाहर रखे जाने से खुश थे। रॉयटर्स ने जून में बताया था कि ऑल इंडिया स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) स्टाफ फेडरेशन और यूएनआई ग्लोबल यूनियन ने आरबीआई से लाइसेंसिंग प्रक्रिया को खत्म करने और एनपीसीआई को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget