विराट नहीं रहेंगे टी-20 के कप्तान

वर्ल्ड कप के बाद टी-20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का किया ऐलान


नई दिल्ली

विराट कोहली ने गुरुवार को ऐलान किया कि वह अक्टूबर-नवंबर में संयुक्त अरब अमीरात में टी-20 वर्ल्ड कप के बाद भारत के टी-20 टीम की कप्तानी छोड़ देंगे। हालांकि स्टार बल्लेबाज ने साफ किया कि वह टेस्ट और वनडे क्रिकेट में भारत का नेतृत्व करना जारी रखेंगे। साथ ही विराट कोहली ने कहा कि उन्होंने मुख्य कोच रवि शास्त्री और रोहित शर्मा सहित कई साथियों से सलाह लेने के बाद यह फैसला किया। कोहली ने यह भी कहा कि उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह को अपने फैसले से अवगत करा दिया है।

कोहली ने T-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की कप्तानी छोड़ने का कारण कार्यभार प्रबंधन का हवाला दिया। यह देखा जाना बाकी है कि वर्ल्ड कप के बाद भारत के T-20 कप्तान के रूप में कौन कार्यभार संभालेगा लेकिन रोहित शर्मा उनके उत्तराधिकारी के रूप में सबसे आगे हैं।

45‌ टी-20 मैचों में कप्तान रहे कोहली

विराट कोहली ने अब तक 45‌ टी-20 मैचों में भारत की कप्तान की है। इस दौरान टीम को 25 मैचों में जीत और 14 में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं, दो मुकाबले टाई पर खत्म हुए और इतने ही बेनतीजा रहे। विराट की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 65।11 रहा है।  

रोहित शर्मा ने अबतक 19 टी20 मैचों में भारत की कप्तानी की है। जिसमें से भारत को 15 मैचों में जीत और महज 4 में हार का सामना करना पड़ा है। रोहित की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 78।94 रहा है।

विराट का ट्विटर पर मैसेज

विराट कोहली ने सोशल मीडिया पर जारी एक बयान में कहा, मैं न केवल भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए भाग्यशाली रहा हूं बल्कि अपनी पूरी क्षमता के साथ भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व भी कर रहा हूं। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में मेरी जर्नी में मेरा समर्थन किया है। मैं खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, चयन समिति, मेरे कोच और हर भारतीय जो हमारी जीत के लिए खेले, उनके बिना नहीं कर सकता था।

उन्होंने कहा, वर्कलोड को समझना एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है और पिछले 8-9 वर्षों में सभी 3 प्रारूपों में खेलने और पिछले 5-6 वर्षों से नियमित रूप से कप्तानी करने पर अत्यधिक कार्यभार को देखते हुए, मुझे लगता है कि मुझे टेस्ट और वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम की अगुवाई करने के लिए पूरी तरह से तैयार होने के लिए खुद को स्थान देने की जरूरत है। कोहली ने कहा, मैंने टी-20 कप्तान के तौर पर अपने दौर में टीम को सब कुछ दिया है और आगे बढ़ते हुए एक बल्लेबाज के तौर पर टी-20 टीम के लिए मैं ऐसा करना जारी रखूंगा। बेशक, इस निर्णय पर पहुंचने में बहुत समय लगा। मेरे करीबी लोगों, रवि भाई और रोहित, जो नेतृत्व समूह का एक अनिवार्य हिस्सा रहे हैं, के साथ बहुत चिंतन और चर्चा के बाद, मैंने अक्टूबर में दुबई में इस टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टी-20 कप्तान के रूप में पद छोड़ने का फैसला किया है। मैंने चयनकर्ताओं के साथ सचिव जय शाह और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से भी बात की है। मैं अपनी पूरी क्षमता से भारतीय क्रिकेट और भारतीय टीम की सेवा करना जारी रखूंगा।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget