सोनू पर 20 करोड़ टैक्स चोरी का आरोप

तीन दिनों तक 28 जगहों पर चली छापेमारी

sonu sood

मुंबई

अभिनेता सोनू सूद पर 20 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी का आरोप लगाया गया है। यह आरोप सोनू सूद और उनके नजदीकियों से जुड़े 28 अलग-अलग ठिकानों पर हुई आयकर विभाग की छापेमारियों के बाद लगाया गया है। तीन दिनों तक चली इन छापेमारियों के बाद केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा यह आरोप लगाया गया है। सोनू सूद पर आरोप है कि उन्होंने फर्जी संस्थाओं से गलत तरीके से ढ़ेर सारे पैसे लिए हैं। ऐसे बोगस लोन और बोगस बिलिंग के कई दस्तावेज उनके ठिकानों से पाए गए हैं। आयकर विभाग ने एक करोड़ आठ लाख रुपए जब्त कर लिए हैं। सीबीडीटी के मुताबिक, आयकर विभाग ने सोनू सूद के मुंबई स्थित अलग-अलग ठिकानों और उनसे संबंधित इंफ्रांस्ट्रक्चर डेवलपमेंट से जुड़े लखनऊ स्थित औद्योगिक समूह के अलग-अलग ठिकानों में आयकर विभाग की छापेमारियों में इसका खुलासा हुआ। ये छापेमारियां मुंबई, कानपुर, जयपुर, दिल्ली, गुुरुग्राम सहित 28 ठिकानों पर तीन दिनों तक की गई। कोरोना की पहली लहर में माइग्रेंट मजदूरों के मसीहा के रूप में पहचाने जाने वाले सोनू सूद पर आरोप है कि उन्होंने मजूदरों की मदद के लिए सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन बनाया। इस फाउंडेशन के नाम पर 2020 जुलाई में 18 करोड़ रुपए से अधिक का डोनेशन जुटाया गया। 2021 के अप्रैल तक इसमें से 1.9 करोड़ रुपए राहत कार्यों पर खर्च किए गए। बाकी 17 करोड़ रुपए नॉन प्रॉफिट बैंक में बिना इस्तेमाल के रखे गए हैं।

 इससे पहले खबर आई थी कि सोनू सूद ने विदेशी योगदान विनिमय अधिनियम  से जुड़े नियम भी तोड़े थे। नियमों को तोड़कर उन्होंने विदेश से धन हासिल किया था। सोनू सूद पर यह आरोप लगा कि विदेशों से मिले धन को सोनू सूद ने कई अलग-अलग जगहों पर खर्च किया। इसीलिए सोनू सूद से संबंधित ठिकानों पर छापेमारियों को अंजाम दिया गया है। शुक्रवार को इनकम टैक्स के छापों का तीसरा दिन था।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget