पंजाब में AAP को रोकने में जुटे चन्नी

बिजली बिल माफी के बाद चला आम आदमी वाला दांव


जालंधर

पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने खुद को आम आदमी बताया। उन्होंने कहा कि मैं गरीबों का प्रतिनिधि हूं। प्रदेश में आम आदमी का शासन स्थापित हो गया है। माना जा रहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान मंे रखते हुए सीएम चन्नी ने जान-बूझकर यह दांव खेला है। बता दें कि पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती बन सकती है। पंजाब में सियासी गुणा-गणित का आंकड़ा फिट बैठाने के लिए कांग्रेस ने दलित विधायक चरणजीत सिंह चन्नी को वहां का नया मुख्यमंत्री बनाया है। चन्नी ने भी शपथ ग्रहण करते ही इस दिशा में कदम बढ़ाने शुरू कर दिए हैं। अपनी पहली ही प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने खुद को आम आदमी बताकर यहां आम आदमी पार्टी की हवा निकालने की कोशिश शुरू कर दी है। गौरतलब है कि पंजाब में जब कांग्रेस पार्टी में विवाद चल रहा था तब भी आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने उसका फायदा उठाने की कोशिश की थी। उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को राखी सावंत बता दिया था। पंजाब में कांग्रेस पार्टी भाजपा से बड़ा खतरा आम आदमी पार्टी को मानती है। वजह, किसानों के मुद्दे पर भाजपा पहले ही बैकफुट पर है। वहीं आम आदमी पार्टी हर तरह से पंजाब में हावी होने की तैयारी में है। 2017 के विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी ने यहां 20 सीटों पर जीत हासिल की थी और सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बनकर उभरी थी। 

वहीं इस साल भी चुनाव में बेहतर करने के लिए वह पूरा जोर लगा रही है। आम आदमी पार्टी ने हर राज्य की तरह ही पंजाब में भी मुफ्त बिजली देने का वादा कर रखा है। इसके अलावा वह पंजाब में मुहिम चलाकर लोगों से एक नई पार्टी को मौका देने की बात कह रही है। ऐसे में चरणजीत सिंह चन्नी ने खुद को आम आदमी कहकर और सभी बकाया बिजली बिलों को माफ कर आम आदमी की मुश्किलें बढ़ाने का पूरा इंतजाम कर लिया है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget