आतंकवाद पर मोदी ने दुनिया को चेताया

अफगानिस्‍तान के बहाने चीन, पाकिस्‍तान और तालिबान को खरी-खरी       पीएम ने संयुक्‍त राष्‍ट्र को दिखाया आईना


न्यूयॉर्क

पीएम मोदी नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए दुनिया को इस बात के लिए अलर्ट किया है कि अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए ना हो। पीएम मोदी ने आतंकवाद पर पाकिस्तान और समुद्री स्वतंत्रता को लेकर चीन को जमकर लताड़ लगाई। पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र को भी आईना दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक तरफ भारत जहां अपनी आजादी के 75वें साल में 75 स्वदेश निर्मित उपग्रह अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी कर रहा है, वहीं कुछ देश आतंकवाद का राजनीतिक उपकरण के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने राजनीतिक एजेंडे के लिए आतंकवाद का इस्तेमाल करने वाले पाकिस्तान को नाम लिए बिना चेताया और  कहा कि यह उसके लिए भी इतना ही खतरनाक है। 

पीएम मोदी ने कहा,जो देश आतंकवाद का राजनीतिक टूल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं उन्हें समझना होगा, यह उनके लिए भी उतना ही बड़ा खतरा है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज विश्व के सामने रूढ़िवादी सोच और चरमपंथ का खतरा बढ़ता जा रहा है। इन परिस्थितियों  में, पूरे विश्व को विज्ञान आधारित, तर्कसंगत और  और प्रगतिशील सोच को विकास का आधार बनाना ही होगा।

अफगानिस्तान को लेकर पीएम मोदी ने कहा, यह सुनिश्चि करना जरूरी है कि अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद फैलाने और आतंकी गतिविधियों के लिए ना हो। हमें इस बात के लिए सतर्क रहना होगा कि वहां की नाजुक स्थिति का कोई देश टूल की तरह इस्तेमाल ना करे। अभी अफगानिस्तान की जनता, महिला, बच्चों और अल्पसंख्यकों को मदद की जरूरत है और हमें इसमें अपना रोल निभाना होगा।

चीन को भी जमकर सुनाया

 पीएम मोदी ने समंदर में दादागिरी दिखाने वाले चीन पर भी निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा, हमारे समंदर भी हमारी साझा विरासत हैं। इसलिए हमें ध्यान रखना होगा कि हमेशा समुद्रीय संसाधनों को हम यूज करें, एब्यूज नहीं। हमारे समंदर अंतरराष्ट्रीय व्यापार की लाइफलाइन भी हैं। इन्हें हमें विस्तार और बहिष्कार की दौड़ से बचाकर रखना होगा। रूल बेस्ड ऑर्डर को सशक्त करने के लिए, अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एक सुर में आवाज उठानी होगी।

आतंकवाद को टूल की तरह इस्तेमाल करने वाले देशों पर यह भारी पड़ सकता है। हमें सतर्क रहना होगा कि अफगानिस्तान का इस्तेमाल कोई देश अपने हितों के लिए न कर सके। वहां की महिलाओं और बच्चों को संभालना है। हमें अपना दायित्व निभाना होगा।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget