बाढ़ से भारी बर्बादी

महाराष्ट्र के सैकड़ों गांव प्रभावित, असम में हालात खराब, राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ तैनात


नई दिल्ली

महाराष्ट्र और असम समेत देश के कई राज्यों में बाढ़ से हालात खराब हो गए हैं। भारी बारिश की वजह से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है, जिससे कई गांव पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं। बिहार में बाढ़ के कारण दरभंगा-समस्तीपुर खंड पर रेल यातायात को स्थगित कर दिया गया है। वहीं, असम में बाढ़ की स्थिति और बिगड़ गई है। राज्य में बाढ़ से अबतक तीन लोगों की मौत हो चुकी है। असम के 34 में से 22 जिलों में बाढ़ से लगभग 5.74 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय बाढ़ की स्थिति पर नजर रखे हुए है। वहीं, राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ की 10 टीमें राज्य में तैनात किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा से राज्य में बाढ़ की स्थिति के संबंध में जानकारी ली और केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा से बात की और राज्य में बाढ़ की स्थिति के बारे में जाना। स्थिति से निपटने के लिए केंद्र की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। मैं प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले भी लोगों की सुरक्षा और कुशलता की कामना करता हूं।

बिहार के लगभग 26 जिले भागलपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, वैशाली और पटना सहित लगातार बारिश के कारण बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा दरभंगा के बाढ़ प्रभावित इलाकों का एरियल सर्वे किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रभावित परिवारों को 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। वहीं, राज्य सरकार ने बाढ़ प्रभावित छात्रों के लिए 'कैच-अप' कोर्स शुरू करने का फैसला किया है, बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि हम बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के अधिकांश स्कूल बंद हैं। मुझे निश्चित रूप से कुछ करना था ताकि छात्रों को परेशानी न हो। इसलिए हमने कैच-अप कोर्स के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया। कक्षाओं सहित अधिकांश स्कूल परिसर में पानी घुस गया है, इसलिए वे सभी बंद हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget