इसलिए बच्चों का बढ़ने लगता है वजन


बचपन में अत्यधिक वजन बढ़ना एक गंभीर समस्या है, जो कि मोटापे में विकसित हो सकती है। बचपन में मोटापे से ग्रसित होने के कारण ना सिर्फ खतरनाक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है, बल्कि बड़े होकर मोटापा कंट्रोल करने की संभावनाएं भी कम होने लगती हैं। अगर बचपन में ही अपनी आदतों या वजन बढ़ाने वाले कारणों को कंट्रोल नहीं किया गया, तो बड़े होकर कंट्रोल करना नामुमकिन-सा हो जाता है।

बच्चों का वजन बढ़ने के कारण 

उनमें आत्मविश्वास की कमी, विकास में बाधा, शारीरिक दर्द आदि दिक्कतें भी होने लगती हैं। आइए जानते हैं कि किन कारणों से बच्चों का अत्यधिक वजन बढ़ने लगता है।

बाइसेप्स को बड़ा बनाने के लिए क्या करें? इन टिप्स के बिना बेकार है एक्सरसाइज करना

मायोक्लिनिक के मुताबिक, निम्नलिखित कारणों से बच्चों में मोटापे की समस्या हो सकती है। जैसे-

डायट: स्नैक्स, चाट, फास्ट फूड, स्ट्रीट फूड और हाई कैलोरी फूड का सेवन बच्चों में मोटापे (obesity in kids) का मुख्य कारण होता है। इसके अलावा, टॉफी, मिठाई व सॉफ्ट ड्रिंक्स के कारण भी बच्चों का वजन अत्यधिक होने लगता है। इसलिए, बच्चों की डायट पर काफी ध्यान देना चाहिए।

एक्सरसाइज की कमी: जो बच्चे खेलकूद में कम दिलचस्पी रखते हैं या फिर एक्सरसाइज नहीं करते हैं, वो पर्याप्त मात्रा में कैलोरी नहीं घटा पाते हैं। दिनभर बेड या सोफे पर पड़े रहकर मोबाइल चलाते रहना, टीवी देखना और खाना-पीना बच्चों में मोटापे का कारण बनता है।

पारिवारिक कारण: अगर बच्चे के माता-पिता या परिवार में लोगों को मोटापे की समस्या है, तो बच्चे का वजन बढ़ने का खतरा भी अधिक होगा। इसके पीछे पहला कारण आनुवांशिक होता है और दूसरा कारण यह है कि जिन बच्चों के घर में मोटापे से ग्रसित लोग हैं, वहां खराब जीवनशैली और हाई-कैलोरी फूड (high calorie foods) की मौजूदगी जरूर होगी। जिसके कारण बच्चों भी उसी जीवनशैली व फूड का शिकार हो सकते हैं।

मनोवैज्ञानिक कारण: कुछ बच्चों का वजन बढ़ने के पीछे तनाव जैसे मनोवैज्ञानिक कारण भी होते हैं। यह तनाव व्यक्तिगत हो सकता है या माता-पिता या परिवार से आ सकता है। तनाव के कारण कुछ बच्चों के अत्यधिक खाने या जीवनशैली खराब होने का खतरा रहता है।

दवाओं या हॉर्मोनल बदलाव: कई बार कुछ दवाओं के सेवन से भी बच्चों का वजन बढ़ सकता है। इसके साथ ही शरीर में हॉर्मोनल चेंज भी वेट गेन के जिम्मेदार हो सकते हैं। अगर किसी दवा को लंबे समय तक खाने या बिना किसी कारण बच्चे का वजन बढ़ रहा है, तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget