लाल सलाम के नाम पर वसूली

डॉक्टर से वसूली की योजना, तीन गिरफ्तार


मुंबई 

अपराध शाखा ने डॉक्टर से नक्सली संदेश से जुड़ा धमकी भरा पत्र भेजकर पचास लाख का हफ्ता मांगने वाली महिला और उसके साथियों को गिरफ्तार किया है। महिला द्वारा दिया गया पत्र लाल सलाम संगठन के लेटर हेड पर तैयार किया गया था, जिसके सामने आने के बाद इसकी जानकारी वनराई पुलिस को दी गयी। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की तो इसका खुलासा हुआ। 

जानकारी के मुताबिक एक महिला गोरेगांव स्थित श्री क्लिनिक पर बुर्का पहने पहुंची। उसने एक बंद लिफाफे में पत्र क्लिनिक पर दिया और वहां से निकल गई। डॉक्टर ने उसे महत्वपूर्ण नहीं समझा और अपने घर ले गए। घर जाने के बाद जब पत्र खोला तो वे भौचक्के रह गए। पत्र में एस. के. मदोरे द्वारा हाथ से लिखा हुआ पत्र था। जिसमें पचास लाख रुपए की मांग की गई थी। पैसे न देने पर उनके बेटे और उनको जान से मारने की धमकी दी गई थी। वनराई पुलिस ने जांच के दौरान वैशाखी बिस्वास, मो. हयात शाहा और विक्रांत सुभाष चंद्र कीरत को गिरफ्तार कर लिया।

बेरोजगारी की वजह से प्लानिंग

पुलिस के मुताबिक लाल सलाम का फर्जी लेटर पैड बनाया गया था। सभी लोग लॉकडाउन के कारण बेरोजगार हो गए थे। आरोपियों ने आसानी और जल्द से पैसे कमाने के उद्देश्य से घटना रची। घटना को अंजाम देने के लिए ऑटो से श्री क्लिनिक पहुंच गए।

यू-ट्यूब पर वीडियो देखकर तैयार किया प्लान

मुख्य आरोपी मो. हयात शहा ने पूरे घटनाक्रम की प्लानिंग की थी। उसने यू-ट्यूब पर वीडियो देखा और फिर लेटर कैसे तैयार किया जाए इसकी प्लानिंग हुई जिसके बाद घटना को अंजाम दिया गया। हयात शिकायतकर्ता का पहचान वाला ही है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget