शहरी इलाकों में खुलेंगी सस्ते अनाज की दुकानें

मंत्री छगन भुजबल के प्रयासों को मिली सफलता

chagan bhujbal

मुंबई

राज्‍य में कोरोना की वजह से निर्मित हुई परिस्थिति और जुलाई और अगस्त माह में हुई भारी बारिश को ध्‍यान में रखते हुए अब शहरी इलाकों में नयी उचित मूल्य की दुकानें (राशन की दुकानें) शुरु की जाएंगी। यह फैसला खाद्य, नागरिक आपूर्ति तथा ग्राहक संरक्षण मंत्री छगन भुजबल के प्रयासों की वजह से लिया गया। राज्‍य सरकार की तरफ से सस्ते अनाज के दुकानदारों की आय बढ़ाने के लिए उचित मूल्य की दुकानों के पुनर्गठन के लिए कदम उठाए गए थे, लेकिन इस कार्रवाई में लगने वाले समय को ध्‍यान में रखते हुए वर्ष 2018 में शहरी इलाकों में नयी दुकानों के वितरण पर रोक लगा दी गई थी। यह रोक अब हटा ली गई है, इस वजह से शहरी इलाकों में भी अब सस्ते अनाज की दुकानें शुरु हो सकेंगी। भुजबल ने कहा कि फिलहाल कोरोना की वजह से महाराष्‍ट्र राज्‍य की गरीब और जरूरतमंद लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। शहरी इलाकों में ऐसे लोगों की जनसंख्या अधिक है। साथ ही कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। 

इस दौरान उचित मूल्‍य की दुकानों के जरिए राज्‍य की घोर गरीब जनता को अन्‍न-धान्‍य सहित केरोसिन वितरण का महत्‍वपूर्ण कार्य शुरु रखना बेहद आवश्यक है। साथ ही राज्‍य में जुलाई व अगस्‍त की बारिश से अनेक शहरों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। शहरी इलाकों में कई जगह नागरिकों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा है। उन्‍होंने कहा कि ऐसी स्थिति में  अन्‍न-धान्य के रूप में सरकारी मदद उचित मूल्‍यों की दुकानों से देना आवश्यक है और शहरी इलाकों को फिर से पुरानी स्थिति में बहाल करना सरकार की जिम्‍मेदारी है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget