महाराजा की 'घर वापसी'!

टाटा संस ने अंतिम क्षणों में लगाई बोली

air india

नई दिल्ली

कर्ज में डूबी सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया के लिए फाइनेंशियल बोली लगाने की समयसीमा बुधवार शाम 6 बजे खत्म हो गई। सूत्रों के हवाले से बताया कि टाटा संस और स्पाइसजेट के चेयरमैन अजय सिंह ने एयर इंडिया के लिए अपनी-अपनी फाइनेंशियल बोली जमा करा दी है। नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि इस प्रक्रिया के लिए 15 सितंबर शाम 6 बजे की डेडलाइन रखी गई है। सूत्रों का कहना है कि अगर बोलियां सही पाई जाती हैं तो एयर इंडिया को दिसंबर तक नए मालिक को सौंपा जा सकता है। इससे पहले दिन में डिपार्टमेंट ऑफ इनवेस्टमेंट एंड पब्लिक एसेट मैनेजमेंट ने ट्वीट किया था कि एयर इंडिया के विनिवेश के लिए फाइनेंशियल बोलियां मिल गई हैं और यह प्रक्रिया अब अंतिम चरण में प्रवेश कर रही है। अब तक एयर इंडिया के लिए केवल दो बोलियां मिली हैं। जानकारों का कहना है कि केंद्र की विनिवेश योजना में टाटा ग्रुप सबसे आगे चल रहा है। अगर कंपनी टाटा के पास आती है तो वह उसकी घर वापसी होगी। एयर इंडिया 2007 में इंडियन एयरलाइंस में विलय के बाद से कभी नेट प्रॉफिट में नहीं रही है। कंपनी को मार्च 2021 में खत्म तिमाही में 9,500-10,000 करोड़ रुपए का घाटा होने की आशंका जताई गई है। एअर इंडिया पर 31 मार्च 2019 तक कुल 60,074 करोड़ रुपए का कर्ज है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget