सिद्धू देश की सुरक्षा के लिए खतरा

सीएम पद से इस्तीफे के बाद अमरिंदर का अटैक

amarinder singh

जालंधर

पंजाब में मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि सिद्धू को मुख्यमंत्री बनाएंगे तो विरोध करूंगा। मैं जानता हूं कि उनका पाकिस्तान के साथ कैसा रिश्ता है। पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल बाजवा और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान उनके दोस्त हैं। सिद्धू पंजाब के लिए विनाश साबित होंगे।

कैप्टन ने आगे कहा कि जो लोग मुख्यमंत्री बनना चाहते थे, उन्हीं ने मेरे खिलाफ सारा माहौल तैयार किया। मैं मुख्यमंत्री के तौर पर सिद्धू को कबूल नहीं करूंगा। जो एक मंत्रालय तो चला न सका, फिर पूरी सरकार क्या चलाएगा। सिद्धू मुख्यमंत्री पद के लिए कैपेबल नहीं हैं।

हाईकमान पर बरसते हुए कैप्टन ने कहा कि बार-बार विधायकों की बैठक बुलाकर साफ हुआ कि कांग्रेस हाईकमान को मुझ पर भरोसा नहीं है। मेरा अपमान हुआ है। इस्तीफा देने के बारे में मैंने सुबह ही फैसला कर लिया था। मैंने सोनिया गांधी से बात की और अपना इस्तीफा दे दिया। मैं दिल्ली कम जाता हूं और दूसरे बहुत जाते हैं, इसलिए वो वहां जाकर क्या कहते हैं, मुझे नहीं पता।

इस्तीफा दिया, लेकिन राजनीति में सारे रास्ते खुले

कैप्‍टन ने कहा कि मैंने पंजाब व पंजाबियों के लिए मजबूती से काम किया है। मैं इस बात की परवाह नहीं करता कि कौन सीएम बनता है और कौन क्या बनता है। कैप्टन ने कहा कि मैंने अभी इस्तीफा दिया और राजनीति में किसी तरह की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता। भाजपा में शामिल होने के सीधे सवाल पर कैप्टन ने कहा कि राजनीति में कभी कोई रास्ता बंद नहीं होता। कैप्टन ने कहा कि मैं पीछे हटने वाला नहीं हूं। कैप्टन ने कहा कि मैंने पहले ही कांग्रेस प्रधान सोनिया गांधी को कह दिया था कि मुझे CM पद से मुक्त कर दें। सिद्धू लेफ्ट चलें और मैं राइट, ऐसे में मैं काम नहीं कर सकता था। इस समय हरीश रावत भी वहां मौजूद थे। कैप्टन ने कहा कि सुखजिंदर रंधावा व तृप्त रजिंदर बाजवा को भी जवाब दिया कि मैंने 13 साल अकालियों के किए केस भुगते। उन्होंने मुझे असेंबली से निकाल दिया। 

पंजाब के 'सरदार' का फैसला करेंगी सोनिया

कैप्टन अमरिंदर सिंह के बाद पंजाब का नया मुख्यमंत्री कौन होगा, इसका फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी। शनिवार को चंडीगढ़ में विधायक दल की बैठक में यह प्रस्ताव पास किया गया। कांग्रेस आलाकमान की ओर से पर्यवेक्षक बनाकर भेजे गए अजय माकन ने कहा कि बैठक में 78 विधायक मौजूद थे और कैप्टन अमरिंदर सिंह के कामकाज की तारीफ करते हुए भी प्रस्ताव पास किया गया है।

अजय माकन ने कहा कि विधायक दल की बैठक में दो प्रस्ताव पास किए गए हैं। सूत्रों के अनुसार आज पंजाब को नया मुख्‍यमंत्री मिल सकता है। मुख्‍यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे सुनील जाखड़ का नाम लिया जा रहा है। जाखड़ के अलावा कई अन्‍य नेता भी अपनी गोटी फिट करने में लगे हैं, लेकिन संभवत: जाट समुदाय के जाखड़ ही पंजाब के 'सरदार' होंगे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget