एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या

गुमला

डायन बिसाही जैसे अंधविश्वास से ग्रामीण जनमानस किस कदर जकड़ा हुआ है, इसका उदाहरण शनिवार की देर रात गुमला थाना क्षेत्र के लुटो गांव में देखने को मिला। यहां डायन बिसाही को लेकर एक ही परिवार के दो महिला समेत तीन लोगों की टांगी से काट कर निर्मम हत्या कर दी गई। मरने वालों में बंधन उरांव (55), उसकी पत्नी सोमारी देवी (50) व बहु बासमुनी शामिल हैं। बताया जाता है कि लूटो गांव के ही बंधन उरांव, उसकी पत्नी सोमारी देवी के रिश्ते में लगने वाले भतीजे ने ही हत्या की। घटना के बाद आरोपी भतीजा बिपता उरांव गांव से फरार हो गया। हालांकि बाद में वह रात करीब 10 बजे कोटाम पुलिस पिकेट पहुंचकर हत्या की बात स्वीकारते हुए आत्म समर्पण कर दिया। आरोपी ने पुलिस को बताया कि तीनों मृतक डायन बिसाही करके उनके परिवार को बर्बाद करने पर तुले हुए थे, इसलिए उनकी हत्या की बात कही। इधर घटना की सूचना के बाद देर रात पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर शवों को पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेजा। साथ ही हत्या में प्रयुक्त टांगी बरामद किया गया है। सदर एसडीपीओ मनीष चंद लाल व थानेदार मनोज कुमार भी दलबल के साथ घटनास्थल पहुंच कर घटना की छानबीन में जुट गए। सदर एसडीपीओ मनीष चंद्रलाल ने बताया कि हत्या के पीछे मृतक बंधन के भतीजे का हाथ है। उसने पुलिस के समक्ष आत्म समर्पण भी कर दिया है। बताया जाता है कि मृतक बंधन की पत्नी सोमारी गांव में झाड़फूंक व ओझागुणी का काम करती थी। इसी कारण उसका भतीजे के साथ अक्सर विवाद होता रहता था। शनिवार की शाम मृतक बंधन उरांव परिवार के साथ खेत से काम कर घर लौटा। रात करीब 8 बजे आरोपित बिपता उरांव ने घर में घुसकर तीनों को टांगी से वार कर मौत के घाट उतार दिया।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget