अब यूपी में बहन-बेटियां नहीं, अपराधी भयभीत : योगी

लखनऊ

भाजपा महिला मोर्चा की कार्य समिति बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आधी आबादी का प्रतिनिधित्व कैसे हो, इसका आदर्श महिला मोर्चा को बनना चाहिए। आपके पास बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार राजनीति के एजेंडे की धुरी बदलने का कार्य यदि किसी ने किया है, तो वह हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। आज उनके नेतृत्व में जो कार्य देश में हो रहे हैं वह नए भारत की तस्वीर को प्रस्तुत करता है, जिसमें एक महिला पिछलग्गू नहीं, बल्कि समाज का नेतृत्व करने वाली होगी। उन्होंने कहा कि पहली बार सुप्रीम कोर्ट में तीन महिला जजों की नियुक्ति हुई है। सबसे अधिक महिला राज्यपाल पीएम मोदी के कार्यकाल में हुई हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि तीन तलाक की कुप्रथा के कारण सैकड़ों वर्षों से भारतीय नारी तड़प रही थी। इस कुप्रथा से मुक्त करने का कार्य भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। हमारा दायित्व बनता है कि उन सभी बहनों को अपने साथ जोड़ें। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश महिलाओं के हित में कई कार्यक्रम शुरू किए गए हैं, जिसमें महिला सुरक्षा, महिला सम्मान और महिला स्वावलंबन को प्रमुखता दी गई है। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार मिशन शक्ति अभियान चला रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्वावलंबन की ओर यदि कोई महिला अग्रसर होती है तो सिर्फ परिवार ही नहीं पूरे समाज को नेतृत्व देती है। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में बेटियां अपने आप को सुरक्षित महसूस कर रही हैं। याद कीजिए 2017 से पहले पश्चिम प्रदेश की क्या स्थिति थी। बेटियां स्कूल नहीं जा सकती थीं। घर सुरक्षित पहुंचेंगी किसी को पता नहीं था।आज महिलाओं को भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। अब प्रदेश में अपराधी और माफिया भयभीत हैं। बेटियों और बहनों को यह सुरक्षा का वातावरण भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने उपलब्ध कराया है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget