गणेशोत्सव के बाद बढ़ सकते हैं कोरोना केस

स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों की चेतावनी


मुंबई

देश में तीसरी लहर की चेतावनी के बीच जिस तरह से महाराष्‍ट्र में गणेशोत्सव के मौके पर लापरवाही बरती जा रही है, वह किसी बड़े खतरे से कम नहीं है। महाराष्‍ट्र में पहले से ही कोरोना के केस बढ़ रहे हैं, उस पर जिस तरह की लापरवाही सामने आ रही है। उसे देखते हुए कहा जा सकता है, कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर राज्‍य में बढ़ सकते हैं। महाराष्‍ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों ने कहा है कि केरल में ओणम पर्व के बाद जिस तरह से मामले बढ़े थे, उसे देखने के बाद हम इस बात को लेकर डरे हुए हैं कि कहीं महराष्‍ट्र में भी ऐसी ही स्थिति न देखने को मिले। 

राज्य के सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर परादीप आवटे ने कहा, हमने पहले भी देखा है कि त्‍योहारों के बाद कोरोना के मामलों में हमेशा बढ़ोत्‍तरी होती है। त्‍योहारों के दौरान काफी भीड़ इकट्ठा होती है और लोग सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन ठीक तरीके से नहीं करते। इस दौरान ज्‍यादातर लोग मास्‍क नहीं लगा रहे हैं, उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने सभी जिलों को सलाह दी है कि गणेशोत्शव  के दौरान खास तौर पर सावधानी बरतें और कहीं पर भी भीड़ इकट्ठा न होने दें। स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी ने कहा कि हमने राज्‍य सरकार से टेस्टिंग की सुविधा के साथ-साथ मरीजों के आइसोलेशन और दवा शुरू करने को तेज करने की नसीहत दी है।  राज्‍य में कोरोना पॉजिटिविटी की दर पिछले सात दिनों में 2.67 फीसद है, लेकिन अधिकारी आठ जिलों में जिस तेजी से मामले बढ़ रहे हैं, उसे देखने के बाद ऐसा कहा जा सकता है कि अभी कोरोना के मामले और बढ़ सकते हैं, उन्होंने कहा कि सरकार एक ओर तो गणेश उत्सव को अलग तरीके से घर पर मनाने की बात कह रही है, वहीं दूसरी तरफ हजारों बसों को कोंकण क्षेत्र में लाने ले जाने के लिए लगाया गया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget