साकीनाका दुष्कम कांड : राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम ने घटनास्थल का किया दौरा


मुंबई

साकीनाका दुष्कर्म प्रकरण के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी ने महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लगाया है कि उसका रवैया महिलाओं की सुरक्षा की विरोधी है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पिछले दो वर्षों से राज्य महिला आयोग का गठन तक नहीं कर सकी है। साथ ही मुंबई पुलिस आयुक्त का बयान कि हर समय सड़कों पर पुलिस मौजूद नहीं रह सकती, निंदनीय है। चंद्रमुखी देवी के नेतृत्व में राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम ने रविवार को मुंबई के साकीनाका इलाके में घटनास्थल का दौरा किया। आयोग की टीम ने इसके बाद राजावाड़ी अस्पताल जाकर डॉक्टरों से मुलाकात की। घटना के बाद पीड़ित महिला को राजावाड़ी अस्पताल में ही भर्ती कराया गया था, जहां उसने जीवन और मौत से करीब 33 घंटे के संघर्ष के बाद शनिवार दोपहर को दम तोड़ दिया था। 

चंद्रमुखी देवी ने पत्रकारों से कहा कि राज्य में महाविकास आघाड़ी सरकार अपने सहयोगी साथियों से ही परेशान है। इसी वजह से सरकार का ध्यान महिला सुरक्षा की ओर नहीं जा रहा है।

घटना के विरोध में भाजपा का आंदोलन

साकीनाका में घटी अमानवीय घटना के विरोध में राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार के खिलाफ विपक्ष ने मोर्चा खोल दिया है। रविवार को घटना के विरोध में पवई पुलिस स्टेशन के बाहर विधान परिषद में विपक्ष नेता प्रवीण दरेकर के नेतृत्व में भाजपा महिला मोर्चा ने आंदोलन किया। आंदोलन के बाद प्रवीण दरेकर ने  सरकार को घेरते हुए कहा कि राज्य में एक बार फिर महिला सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। इसके लिए सरकार जिम्मेदार है, इससे वो इंकार नहीं कर सकती। सरकार के मंत्रियों को महिलाओं की सुरक्षा से अधिक अपनी कुर्सी की सुरक्षा पर ध्यान है। 

राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने में सरकार पूरी विफल है। दरेकर ने कहा कि मुंबई की महिलाएं आज डरी हुई हैं। मुंबई एक अंतरराष्ट्रीय शहर है जहां करोड़ों की संख्या में लोग रहते हैं, लेकिन उनकी सुरक्षा को लेकर जो छवि थी वह धूमिल हो गई है। राज्य में इस तरह की घटनाएं बार-बार हो रही हैं, लेकिन सरकार ध्यान नहीं दे रही है। साथ ही सरकार की प्राथमिकताएं बदल गई हैं। दरेकर ने कहा कि देश ही नहीं, पूरी दुनिया में कानून-व्यवस्था को लेकर मुंबई पुलिस की अलग पहचान है, लेकिन सरकार द्वारा उसे बदनाम किया जा रहा है। राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए दरेकर ने कहा कि अगर राज्य में महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कानून -व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो जनता को सरकार को माफ़ नहीं करेगी। आंदोलन में उत्तर-पश्चिम जिला भाजपा महामंत्री मुरजी पटेल सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget