जातीय जनगणना से केंद्र का इंकार, गरमाई सियासत

पटना

बिहार में जातिगत जनगणना राजनीतिक मुद्दा बन चुका है, पर केंद्र सरकार ने एक बार फिर इसे करवाने से इंकार कर दिया है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि वह ऐसा कोई निर्देश न दे जिसमें 2021 की जनगणना में OBC को शामिल किया जाए। केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि पिछड़े वर्ग की जातिगत जनगणना कराना प्रशासनिक रूप से बेहद कठिन और जटिल है। शीर्ष कोर्ट में दायर हलफनामे में केंद्र सरकार ने कहा है कि सामाजिक आर्थिक व जाति जनगणना 2011 अशुद्धियों से भरी हुई है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि SECC- 2011 सर्वे ओबीसी सर्वेक्षण नहीं है जैसा आरोप लगाया जाता है, बल्कि यह सभी घरों में जातीय स्थिति जाने की जानने की प्रक्रिया थी।

दरअसल, महाराष्ट्र की एक याचिका में जातिगत जनगणना के आंकड़े जारी करने की मांग  की गई थी। इस पर सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने हलफनामे में कहा है कि सरकार ने 2021 की जनगणना में एससी-एसटी को शामिल किया है, पर अन्य किसी श्रेणी का उल्लेख नहीं है। बता दें कि हाल में बिहार के सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में 10 दलों का प्रतिनिधिमंडल जातीय जनगणना की मांग को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी से मिला था। जातीय जनगणना को लेकर केंद्र सरकार के इंकार के बाद बिहार में सियासत तेज हो गई है। जदयू ने कहा है कि हमारी मांग जारी रहेगी। जातीय जनगणना पर निर्णय लेना केंद्र सरकार का काम है। सीएम नीतीश कुमार पिछले कई वर्षों से यह मांग करते रहे हैं। वहीं इस मामले में राजद और कांग्रेस ने केंद्र पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें पहले से ही शक था कि केंद्र सरकार जातीय जनगणना नहीं कराएगी। जातीय जनगणना पर बिहार सरकार के मंत्री व भाजपा के नेता प्रमोद कुमार ने कहा कि मामला जब न्यायालय में है तो हम सभी को न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए. जहां तक जातीय जनगणना कराए जाने की बात है तो जिनका एजेंडा ही जाति है, वह इसकी मांग कर रहे हैं। हमारा एजेंडा राष्ट्रवाद है। 

बता दें कि बिहार की सियासत में जातिगत जनगणना  का मुद्दा लगातार चर्चा में है। विशेषकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इस मुद्दे को बार-बार उठा हैं। उनकी पहल के बाद ही बिहार के राजनीतिक दलों का एक डेलिगेशन बीते 23 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मिलकर देश में जातीय जनगणना करवाने की मांग कर चुका है। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व सीएम नीतीश कुमार कर रहे थे और इसमें राजद के तेजस्वी यादव  व भाजपा के नेता समेत 10 सियासी पार्टियों के 11 लोग शामिल थे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget