देश की संपत्ति नहीं बिकने देगी कांग्रेस : पाटिल

मुंबई

स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव पर महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस की तरफ से शुरु व्यर्थ न हो बलिदान, चलो बचाए संविधान अभियान गुरुवार को सातारा जिले के वडूज में संपन्न हुआ। इस मौके पर महाराष्ट्र प्रभारी एच.के. पाटिल ने कहा कि देश की दौलत निजी लोगों को बेची जा रही है। कांग्रेस इसके विरोध में है और देश की संपत्ति बिकने नहीं देगी। देश की संपत्ति के मालिक देश के नागरिक हैं और इसकी रक्षा कर देश की संपत्ति को लूटने से बचाने के लिए कांग्रेस संघर्ष करेगी। कार्यक्रम में स्वतंत्रता सेनानियों और उनके परिवारों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष नाना पटोले, राजस्‍व मंत्री बालासाहेब थोरात, पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्‍वीराज चव्‍हाण, मंत्री यशोमति ठाकुर, विश्‍वजीत कदम, सतेज बंटी पाटिल सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।  प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष नाना पटोले ने कहा कि स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु का आजादी से पूर्व और आजादी के बाद देश के निर्माण में अहम योगदान रहा है। उन्‍होंने देश में विभिन्न योजनाएं लागू कर क्रांति ला दी, लेकिन उन्हीं पंडित नेहरू को केंद्र सरकार भूल गई है। केंद्र सरकार ने स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मनाने का निर्णय लिया है, लेकिन पंडित नेहरू का फोटो लगाने तक का सौजन्‍य नहीं दिखाया। इससे देश की आजादी के लिए लड़ने वाले लाखों स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान हुआ है। 74 साल देश को बनाने में लग गए, वह देश 7 साल में बेचा जा रहा है।  

राजस्‍व मंत्री बालासाहेब थोरात ने कहा कि सातारा की वडूज की भूमि क्रांति की भूमि है। इस भूमि से देश को ऊर्जा मिली। 1857 में इसी भूमि से क्रांति की मशाल जली। उन्‍होंने कहा कि 10 महीने से किसान आंदोलन कर रहे हैं। उन्हें रोकने के लिए सड़कों पर कीलें ठोंकी गई, गोलीबार की गई, लेकिन केंद्र सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही है। पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्‍वीराज चव्‍हाण ने कहा कि आज देश की तस्वीर बदल गई है और संविधान को बचाया जाए, यह कहने का वक्त आ गया है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget