राज्य में बीयर बार और पब खुल सकता है, लेकिन मंदिर नहीं : शेलार

मुंबई

राज्य में मंदिर और धार्मिक स्थलों को खोलने को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा दिए गए बयान पर भाजपा विधायक आशीष शेलार ने जवाब दिया है। बुधवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए शेलार ने कहा कि मुख्यमंत्री मंदिरों और स्वास्थ्य  दोनों के प्रति संवेदनशील हैं, लेकिन क्या राज्य में बीयर बार, डिस्को बार और पब भी  स्वास्थ्य केंद्र  हैं । ठाकरे के बयान पर कटाक्ष करते हुए भाजपा विधायक ने कहा कि इस विषय पर सीएम क्या जवाब देंगे उसका हमें  इंतजार है। शेलार ने अारोप लगाया की कोविड सेंटर, आइसोलेशन सेंटर, स्वास्थ्य सुविधाएं, सैनिटाइजर आवंटन, जैसे सभी आपूर्ति में कट कमीशन का मुद्दा सामने आ रहा है, क्या यह ठाकरे सरकार के निर्णय है। ठाकरे सरकार को घेरते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि पब, और बार के मालिकों के साथ बातचीत की जाती है और बातचीत के बाद सीएम ठाकरे बीयर बार और पब को खोलने की घोषणा कर देते हैं, क्या यह निर्णय कट कमीशन नीति के साथ किया गया है ? मजदूरों के बेरोजगारी का बहना बताते हुए आबकारी शुल्क कमाने के लिए शराब की दुकानें और मॉल खोल दिया गया, लेकिन मंदिरो के कारण बाहर नारियल, अगरबत्ती, बेचने वाले पिछले डेढ़ साल से बेरोजगार हैं, लेकिन सरकार को उनकी चिंता नहीं है। क्या इन लोगों को जीने का अधिकार नहीं है? शेलार ने कहा कि स्वास्थ्य केंद्रों की बात करने वाले तो मुख्यमंत्री से मेरा सवाल है कि ठाणे जिले में 6 महीने में 741 आदिवासी बच्चों की मौत हो गई है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget