कृत्रिम तालाब में गणेश विसर्जन समय की मांगः भाई जगताप

मुंबई

गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन करते समय हम सभी को इसकी पवित्रता का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि यह हम सब की जिम्मेदारी है। पर्यावरण को कोई नुकसान पहुंचाए बिना पर्यावरण के अनुकूल तरीके से गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन करना समय की मांग है,शनिवार को मुंबई के गोरेगांव पश्चिम में, पत्रा चाल, सिद्धार्थ नगर इलाके में गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए कृत्रिम तालाब की व्यवस्था की गई थी।

 तालाब का उद्घाटन करने के बाद मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप ने यह बात कही। भाई जगताप ने कहा की, कृत्रिम तालाबों में गणेश प्रतिमाओं को विसर्जित करने का अभियान मुंबई मनपा शुरू किया है, लेकिन बहुत कम लोग गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए कृत्रिम तालाबों का उपयोग करते थे, लेकिन अब इनकी संख्या  धीरे-धीरे बढ़ रही है।  भाई जगताप ने कहा कि 74साल पुराना मंडल महाराष्ट्र मंडल  द्वारा कृत्रिम झील की सुविधा प्रदान की जा रही है। उस तालाब का पानी रोज बदला जाता है। यह बहुत साफ और स्वछ पानी है। हम पवित्र भावना, आस्था से गणपति बप्पा की पूजा करते हैं और फिर उसे कहीं पर भी विसर्जित कर दिया जाता है। ऐसा ना करते हुए अगर उस गणेश प्रतिमा को ऐसे कृत्रिम तालाब में विसर्जित कर दिया जाए तो गणेश विसर्जन की पवित्रता अच्छी तरह से बनी रहेगी। साथ ही इस मंडल द्वारा विसर्जन के बाद बची मिट्टी में गुलमोहर, यूकेलिप्टस जैसे पौधों के बीज बोए जाते हैं और फिर उसे भक्तों को प्रसाद के रूप में दिया जाता है। 

इस दौरान भाई जगताप के साथ जिलाध्यक्ष पूर्व नगरसेवक क्लाइव डायस सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget