'सुपरकिंग्स' और 'इंडियंस' में आज होगा घमासान

टी20 वर्ल्ड कप से पहले तैयारियों को परखने का आखिरी मौका


दुबई

चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच रविवार को होने वाले मैच से इंडियन प्रीमियर लीग 2021 (IPL) के दूसरे चरण का आगाज होगा। इस टी30 लीग के जरिए खिलाड़ियों को टी20 विश्व कप से पहले यूएई की परिस्थितियों को समझने का भी मौका मिलेगा। भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण आईपीएल को मई में बीच में ही स्थगित करना पड़ा था। उस समय तक टूर्नामेंट के 29 मैच ही हो पाए थे। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) अब ऐसी किसी स्थिति से बचने के लिए प्रार्थना कर रहा होगा। 

बीसीसीआई को आईपीएल के दूसरे चरण के आयोजन के लिए कार्यक्रम तय करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। ऐसे में इंग्लैंड दौरे पर गई भारतीय टीम में कोविड-19 के मामले पाए जाने से बीसीसीआई की भी सांसे फूलने लगी थी, लेकिन यह बड़ा मुद्दा नहीं बना तथा भारत और इंग्लैंड के जिन खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलना है वे सुरक्षित यहां पहुंच गए।

पिछले वर्ष पूरा आईपीएल यूएई में खेला गया था और तब किसी तरह की परेशानी नहीं हुई थी। बीसीसीआई को इस बार भी यहां टूर्नामेंट के सफल आयोजन की उम्मीद है। आईपीएल में 2019 के बाद पहली बार सीमित संख्या में दर्शक भी उपस्थित रहेंगे जिससे टूर्नामेंट का रोमांच बढ़ गया है। मुंबई और चेन्नई के बीच अब तक 31 बार आमने सामने हुई हैं जिसमें मुंबई ने 19 जबकि चेन्नई ने 12 मैच जीते हैं।

आईपीएल के प्रदर्शन को नहीं कर सकते नजरअंदाज

टी20 विश्व कप के लिए टीमें घोषित की जा चुकी हैं, लेकिन आईपीएल के प्रदर्शन को तब भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर अंतिम क्षणों में भी कोई अन्य खिलाड़ी उसकी जगह ले सकता है। आईसीसी ने वैसे भी 10 अक्टूबर तक बदलाव की अनुमति दे रखी है।

कोहली आरसीबी को दिलाना चाहेंगे खिताब

विश्व कप के बाद टी20 की कप्तानी छोड़ने की घोषणा करने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली आईसीसी ट्रोफी उठाने का अपना सपना पूरा करने से पहले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आईपीएल का पहला खिताब दिलाना चाहेंगे।

 यूएई में 32 मैच खेले जाएंगे

यूएई में आईपीएल के 31 मैच खेले जाएंगे और इसका मतलब होगा कि टूर्नामेंट के दौरान पिच अच्छी रहेगी। भारत की तुलना में परिस्थितियां भिन्न होंगी और पिचें कुछ धीमी होंगी ऐसे में सभी टीमें नए सिरे से ही शुरुआत करेंगी।

चेन्नई और मुंबई होंगी आमने सामने

चेन्नई और मुंबई की चिर प्रतिद्वंद्विता के साथ रविवार को आईपीएल बहाल होगा। मुंबई ने अब तक सात मैचों में चार में जीत दर्ज की है और किसी भी तरह की ढीली शुरुआत उसे भारी पड़ सकती है। पिछले साल के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद चेन्नई ने लय हासिल कर ली है। उसके सात मैच में पांच जीत से 10 अंक हैं। उसके युवा खिलाड़ियों रुतुराज गायकवाड़ और सैम करेन ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है। उसके स्पिनरों इमरान ताहिर, मोईन अली और रविंद्र जडेजा ने भी प्रभाव छोड़ा। मोईन और जडेजा ने बल्लेबाजी में भी अच्छा प्रदर्शन किया है।

 धोनी और रैना के लय में लौटने की उम्मीद

कई दिग्गज खिलाड़ियों से सजी यह टीम अब कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना के भी लय में लौटने की उम्मीद कर रही होगी। जहां तक मुंबई का सवाल है तो उसके मध्यक्रम को अच्छा प्रदर्शन की जरूरत है और उसके गेंदबाजों को भी पावरप्ले में बेहतर खेल दिखाना होगा।

 हार्दिक की गेंदबाजी पर रहेगी नजर

हार्दिक पंड्या के भी नियमित रूप से गेंदबाजी करने की उम्मीद है जिससे आईसीसी टूर्नामेंट के लिए भारत के पास अधिक विकल्प हो जाएंगे। पंजाब किंग्स, राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीमें कुछ खिलाड़ियों के हटने से प्रभावित हुई हैं। उसके अन्य खिलाड़ियों को इसकी भरपायी करनी होगी। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget