गणेशोत्‍सव पर एहतियात बरतना जरूरी: टोपे

परिस्थिति पर सरकार की पैनी नजर

rajesh tope

मुंबई 

केरल में ओणम पर्व के बाद तेजी से कोरोना मरीजों की संख्‍या में इजाफा हुआ। ऐसे में महाराष्‍ट्र के सबसे बड़े पर्व गणेशोत्‍सव को लेकर सरकार की चिंता बढ़ गई है। फिलहाल प्रतिबंध बढ़ाने पर सरकार विचार नहीं कर रही, लेकिन स्थिति पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए त्‍योहारी मौसम में राजनीतिक, सामाजिक कार्यकर्ताओं सहित जनता से कोरोना प्रतिबंधक नियमों के पालन करने की अपील की है। उनका कहना है कि सभी को एहतियात बरतना बेहद जरूरी है।

ऑक्सीजन खपत 700 मीट्रिक टन पहुंची तो प्रतिबंध

उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार ने तीसरी लहर का अनुमान व्‍यक्‍त करते हुए एक बड़ा आंकड़ा बताया है। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने अधिसूचना जारी की है कि जिस दिन 700 मीट्रिक टन से अधिक ऑक्‍सीजन की खपत होने लगेगी, उसी वक्‍त से प्रतिबंध लगने शुरु हो जाएंगे। इसे मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी मंजूरी दी है। ऐसे में एहतियात बरतना बेहद जरूरी है। टोपे ने कहा कि अभी स्‍वास्‍थ्‍य विभाग और मुख्‍यमंत्री ने प्रतिबंध बढ़ाने के बारे में कोई विचार नहीं किया है। संपूर्ण परिस्थिति पर हमारी नजर है। रोगियों की संख्‍या कहां बढ़ रही है? क्‍यों बढ़ रही है? इस पर विशेष ध्‍यान दिया जा रहा है। पहली और दूसरी लहर के अनुभव को देखते हुए मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे सलाहकारों से चर्चा कर आगे का निर्णय लेंगे। नागपुर के बारे में वहां के आंकड़े और स्थिति को देखकर मुख्‍यमंत्री निर्णय लेंगे। उन्‍होंने कहा कि पिछली बार ऑक्‍सीजन उत्‍पादन की क्षमता 1 हजार मीट्रिक टन थी, जो अब बढ़कर 1400 से 1500 मीट्रिक टन तक जा पहुंची है। ऑक्‍सीजन के 450 प्‍लांट लगाए जा रहे हैं, इनमें से 250 प्‍लांट लग चुके हैं। बाकी के प्‍लांट जल्‍द ही तैयार हो जाएंगे। ऑक्‍सीजन की भंडारण क्षमता को बढ़ाने के साथ-साथ ड्यूरा सिलेंडर्स की संख्‍या भी बढ़ाई जा रही है। इससे क्षमता बढ़कर 1900 से 2000 मीट्रिक टन हो जाएगी।      

पांच जिले में कुल रोगियों की संख्या 70 फीसदी

टोपे ने कहा कि केरल में ओणम पर्व के बाद रोगियों की संख्‍या बढ़ी है। ऐसे में यह स्‍पष्‍ट है कि भीड़ करते हुए नियमों का पालन नहीं करने पर रोगियों की संख्‍या बढ़ सकती है। आज राज्‍य के 4 से 5 जिलों में कुल रोगियों की संख्‍या में से 70 फीसदी मरीज है। इसमें अहमदनगर, रत्‍नागिरी, सातारा, मुंबई, पुणे जिलों का समावेश है। उन्‍होंने आगामी गणेशोत्‍सव की शुभकामानाएं देते हुए कहा कि कोविड प्रतिबंधक नियमों का पालन करना आवश्‍यक है। केंद्र सरकार ने केरल और महाराष्‍ट्र को भीड़ से बचने की सलाह दी है। ऐसे में मंडलों और गणेश भक्‍तों को अनुशासित रहकर कोविड के नियमों का पालन करते हुए उत्‍सव मनाना चाहिए।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget