सरकार त्योहार नहीं, कोरोना के खिलाफ: ठाकरे

uddhav thackeray

ठाणे

ठाणे में डिजिटल माध्यम से ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य सरकार किसी भी त्योहार के नहीं, बल्कि कोरोना के खिलाफ है। कोरोना कोई सरकारी कार्यक्रम नहीं है, इसकी रोकथाम के लिए विश्वभर में अनुशासन और नियमों का पालन किया जा रहा है, उनका हमें भी पालन करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने भी त्योहार के दौरान संक्रमण बढ़ने की आशंका प्रकट करते हुए राज्य सरकार को सतर्क रहने को कहा है। कोरोनी की वजह से गोकुल अष्टमी को सादगी से मनाने का आव्हान मुख्यमंत्री ठाकरे ने किया था। इस पर प्रतिसाद देते हुए संस्कृति प्रतिष्ठान ने दही हंडी उत्सव न मानते हुए स्वास्थ्य उत्सव आयोजित किया। इसके एक भाग के रूप में प्रताप सरनाईक फाउंडेशन और विहंग चॅरिटेबल ट्रस्ट की तरफ से मंगलवार को ठाणे शहर में लगाए गए ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण मुख्यमंत्री ने किया। कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री और ठाणे जिले के पालक मंत्री एकनाथ शिंदे, सांसद संजय राऊत, विधायक प्रताप सरनाईक, रवींद्र फाटक, महापौर नरेश म्हस्के आदि उपस्थित थे।  

जन आशीर्वाद यात्रा को बनाया निशाना

मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि दही हंडी के उत्साह और उत्सव को हमने भुला दिया है, लेकिन आज भीड़ कर उत्सव मनाने की परिस्थिति नहीं है। कोरोना संकट विश्व भर में फैला है। इस संकट को देखते हुए भी स्वास्थ्य संबंधी सुविधा का निर्माण न करते हुए कुछ लोग जनता की जान को खतरे में डालने वाले कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्हें समझना चाहिए कि यह आजादी का आंदोलन नहीं है। यह जनता के जीवन का सवाल है। कोरोना संबंधी नियमों को तोड़कर आंदोलन किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आंदोलन करना है,तो कोरोना के खिलाफ करो। मुख्यमंत्री ने यह बात कहकर अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा की जन आशीर्वाद और शंखनाद आंदोलन पर निशाना साधा।

केंद्र ने जताई तीसरी लहर की आशंका

ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका प्रकट की है। केंद्र सरकार ने भी यह बात कही है। केंद्र सरकार ने राज्यों को लिखे पत्र में दही हंडी और गणेशोत्सव में भीड़ से बचने को कहा है। जो आंदोलन करने वाले हैं, उन्हें केंद्र सरकार का यह पत्र दिखाना चाहते हैं। उन्होंने ऑक्सीजन परियोजना शुरु करने के लिए विधायक सरनाईक की तारीफ की।

एमएमआर में लगे पीएसए प्लांट: शिंदे

नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में रोगियों को ऑक्सीजन की सबसे अधिक जरूरत महसूस हुई। उत्पादन की अपेक्षा मांग अधिक होने से ऐसी स्थिति बनी, लेकिन अब जिला नियोजन विकास निधि और नगर विकास विभाग के माध्यम से मुंबई महानगर परिसर की महानगर पालिकाओं में ऑक्सीजन निर्माण के पीएसए प्लांट लगाए गए हैं। सांसद संजय राऊत ने कहा कि जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, वे संक्रमण को आमंत्रण दे रहे हैं। 

ऑक्सीजन प्लांट

विधायक सरनाईक ने अपने विधानसभा क्षेत्र ओवला-माजीवडा के लिए स्थायी ऑक्सीजन प्लांट लगाया है। इस प्लांट से दिनभर में 120 ऑक्सीजन सिलेंडर मिलेंगे। यह ऑक्सीजन मुफ्त में मिलेगी। यहां से नागरिक खाली सिलेंडर लाकर भरे सिलेंडर ले जा सकेंगे। जिनके पास सिलेंडर नहीं होंगे, वे डिपॉजिट रकम जमाकर सिलेंडर प्राप्त कर सकेंगे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget