बगराम एयरपोर्ट को हासिल करने की फिराक में चीन

भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने की रणनीति


वाशिंगटन

अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता में आते ही चीन अफगानिस्तान के सबसे बड़े बगराम एयरबेस को हासिल करने की फिराक में है। मौजूदा हालात में वह पाकिस्तान को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करेगा। अमेरिका की संयुक्त राष्ट्र में राजनयिक रहीं भारतवंशी रिपब्लिकन नेता निक्की हेली ने यह महत्वपूर्ण जानकारी दी है। बगराम एयरबेस अमेरिका का बीस साल तक सबसे बड़ा सैन्य अड्डा रहा और यहीं से उसने आतंकियों की कमर तोड़ने के लिए हवाई हमलों को अंजाम दिया था। अमेरिकी नेता निक्की हेली ने वर्तमान स्थितियों के संदर्भ में बाइडन प्रशासन से कहा है कि सबसे पहली जरूरत है कि अमेरिका अपने मित्र देश भारत, जापान, आस्ट्रेलिया और सभी सहयोगी देशों के साथ मजबूती से समन्वय बनाए और उनको साथ देने के प्रति आश्वस्त करे। इस समय ताइवान, यूक्रेन, इजरायल जैसे देशों के साथ भी खड़ा होने की जरूरत है। रिपब्लिकन नेता निक्की ने कहा कि जिस तरह से अमेरिका ने अमेरिका से वापसी की है, इससे जिहादियों के हौसले बढ़े हुए हैं और इसे वह इसे अपनी नैतिक जीत मान रहे हैं। अब वह दुनियाभर में अपने संगठन के लिए भर्ती शुरू कर देंगे। ऐसी स्थिति में हमें आतंकवाद के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ना चाहिए। पूर्व अमेरिकी राजनयिक ने कहा कि यह सुनिश्चित करना जरूरी हो गया है कि हम पूरी तरह सुरक्षित रहें। ये वो हालात हैं, जब रूस निरंतर साइबर हमले कर रहा है, आतंकवाद बढ़ रहा है। हमें चीन पर भी नजर रखने की जरूरत है। 


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget