डेंगू बुखार पीड़ितों के खून में मिला D2 स्ट्रेन

लखनऊ

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में अधिकांश मौतें डेंगू बुखार (डी2 स्ट्रेन) के कारण हुई हैं। स्वास्थ्य और कल्याण मंत्रालय द्वारा गुरुवार को एक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में बुखार के नमूनों की जांच करने पर हमें डेंगू का पता चला है। डॉ. भार्गव ने कहा, यूपी के फिरोजाबाद और मथुरा और यहां तक कि आगरा में मौतें स्पष्ट रूप से डेंगू के कारण हुई हैं। उन्होंने कहा कि इन जिलों से आईसीएमआर द्वारा जो सैंपल लिए गए थे, उनमें D2 स्ट्रेन पाया गया है, जो रक्तस्राव का कारण बन सकता है और घातक साबित हो सकता है। इस दौरान भार्गव ने उत्तर प्रदेश की जनता से मच्छरों के प्रति सावधानी बरतने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों को मच्छर के पनपने वाली जगहों जैसे किसी स्थान पर लंबे समय तक पानी जमा होने देने से बचना चाहिए। बता दें कि पिछले दिनों ICMR की 11 सदस्यीय टीम फिरोजाबाद पहुंची थी और सैंपल्स इकट्ठा किए थे।

विशेषज्ञों के मुताबिक डेंगू का डी-2 स्ट्रेन सबसे ज्यादा खतरनाक माना जाता है। इसके संक्रमण में मरीज के शरीर पर 3 से 5 दिन में लाल चकत्ते पड़ते हैं। साथ ही शरीर में ब्लड के प्लेटलेट्स तेजी से घटना शुरू हो जाते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि डेंगू रक्तस्रावी बुखार और शॉक सिंड्रोम जो मृत्यु का कारण बन सकता है।

डेंगू के लक्षण मांसपेशियों व जोड़ों में दर्द, अचानक तेज बुखार आना, गंभीर परिस्थिति में शरीर से रक्त स्राव होना, हाथ-पैरों, मुंह पर लाल दाने होना, आंखों के पीछे तेज दर्द व जलन, तेज सिर दर्द व उल्टी का आना।

गौरतलब है कि पिछले लगभग दो हफ्ते से फिरोजाबाद में वायरल बुखार का तेजी से फैलता संक्रमण धीरे-धीरे डेंगू में परिवर्तित हुआ और पिछले एक सप्ताह में डेंगू का प्रकोप जनपद के शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों तक में फैला।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget