ISI ने रची थी भारत में आर्थिक आतंकवाद की साजिश

ISI

नई दिल्ली

दिल्ली पुलिस द्वारा पूर्व में भंडाफोड़ किए गए पाकिस्तान प्रायोजित आतंकी मॉड्यूल सीरियल ब्लास्ट को अंजाम देकर भारत को आर्थिक नुकसान पहुंचाने की साजिश रच रहा था। दिल्ली पुलिस के आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तार किए गए जीशान कमर ने पूछताछ में बताया कि पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) भारत में आर्थिक आतंकवाद को अंजाम देना चाहती है। गिरफ्तार किए गए सभी छह आतंकियों से दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल लगातार पूछताछ कर रही है और पूछताछ में कई खुलासे हुए हैं। सूत्रों ने कहा कि वे कपास के व्यापार को कम करने की योजना बना रहे थे और उन्होंने बड़े कारखानों, गोदामों और दुकानों में कपास को ले जाने वाली ट्रेनों को जलाने की योजना बनाई थी, जो कोरोना महामारी के प्रभाव से उबरने की कोशिश कर रही देश की अर्थव्यवस्था को बाधित करता। उन्होंने आगे कहा कि आतंकवादी जान मोहम्मद अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई अनीस इब्राहिम और आईएसआई के सीधे संपर्क में था। सूत्रों ने कहा कि पूछताछ के दौरान जान मोहम्मद ने कबूल किया कि उसने एक तंबाकू व्यापार केंद्र में विस्फोट किया था और अनवर नाम के एक व्यापारी की हत्या कर दी थी। महाराष्ट्र (एंटी टेरेरिज्म स्क्वॉड) एटीएस ने गुरुवार को जान मोहम्मद से करीब ढाई घंटे तक पूछताछ की थी।

सूत्रों ने बताया कि मस्कट में आईएसआई ने कुछ ऐसे लोगों को नौकरी पर रखा था जो पाकिस्तान में ट्रेनिंग के लिए लड़कों को मस्कट से जलमार्ग के जरिए पाकिस्तान ले जाते थे। सूत्र ने कहा कि यात्रा के दौरान आईएसआई से जुड़ा एक व्यक्ति भी मौजूद रहता था। उसका काम पाकिस्तान में तैनात अपने साथियों को हर गतिविधि की जानकारी देना था। इतना ही नहीं सूत्रों ने यह भी बताया कि पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट पर जिस फार्म हाउस में आतंकियों को ट्रेनिंग दी गई थी, वहां फायरिंग रेंज से लेकर फिजिकल ट्रेनिंग तक की व्यवस्था थी। सूत्रों ने यह भी बताया कि ट्रेनिंग तीन सत्रों में कराई गई। पहली सत्र में जीशान एक खास समुदाय पर हो रहे अत्याचारों के भ्रामक वीडियो दिखाकर उनका ब्रेनवॉश करता था। दूसरे सत्र में पाकिस्तानी सेना के लोग इन आतंकियों को हथियार चलाने और बम बनाने की ट्रेनिंग देते थे और तीसरे सत्र में आईएसआई के लोग लड़ाकों को हमला करने, टोह लेने और भीड़-भाड़ वाले इलाकों में छिपकर टारगेट खोजने की ट्रेनिंग देते थे।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget