शिया-सुन्नी संघर्ष , 11 की मौत

15 घायल, इमरान सरकार की बढ़ीं मुश्किलें


इस्लामाबाद

उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के कबायली इलाके में वन भूमि के विवादित कब्जे को लेकर दो गुटों के बीच झड़प हुई। कुर्रम जिले के कोहाट डिवीजन में शिया-सुन्नी के बीच हुए संघर्ष में कम से कम 11 लोग मारे गए और 15 घायल हो गए। विवादित पर्वतीय जंगलों में पेड़ों की कटाई को लेकर दो समूहों के बीच झड़प हुई। अब तक दोनों पक्षों की ओर से हुई गोलीबारी में 11 लोग मारे गए हैं और 15 घायल हुए हैं। इस दौरान भारी हथियारों का इस्तेमाल किया गया और मंगलवार को लड़ाई जारी थी। शांति बहाल करने के लिए पुलिस को तैनात किया गया है।

बता दें कि पाकिस्तान बढ़ती सांप्रदायिक हिंसा का सामना कर रहा है, अल-कायदा और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान से जुड़े सशस्त्र सुन्नी समूह अक्सर शियाओं की सभाओं पर हमला करते हैं, जो देश की मुस्लिम आबादी का लगभग 20 फीसद हिस्सा हैं। वहीं, दूसरी ओर प्रतिबंधित कट्टरपंथी इस्लामी समूहों के आगे प्रधानमंत्री इमरान खान ने घुटने टेक दिए हैं। प्रतिबंधित कट्टरपंथी इस्लामी समूह तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) ने चेतावनी दी थी कि उसके कार्यकर्ता इस्लामाबाद की ओर बढ़ेंगे। यही वजह है कि प्रतिबंधित कट्टरपंथी इस्लामी समूह के दबाव में पाकिस्तान सरकार ने रविवार को तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के 350 से अधिक कार्यकर्ताओं को रिहा कर दिया। इतना ही नहीं, टीएलपी ने घोषणा की कि बुधवार तक बाकी कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमे भी वापस ले लिए जाएंगे।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget